अपनी राशि के अनुसार पहने यह रत्न

ज्योतिष शास्त्र द्वारा बारह राशियां प्रदान की गई हैं। हमारे जन्म समय के अनुसार हम किसी विशेष राशि को प्राप्त करते हैं और उस राशि से जुड़े ग्रह का हमारे जीवन पर कंट्रोल होता है। ये ग्रह हमारे प्रतिनिधि होते हैं, इतना ही नहीं हम ज्योतिष सलाह से इन ग्रहों को मजबूत बनाकर लाभ भी पा सकते हैं जिसका सबसे पहला माध्यम होता है ‘रत्न’।

मेष राशि :-  अग्नि तत्व की राशि मेष के जातकों को डायमंड धारण करना चाहिए। जितना संभव हो उतना अधिक डायमंड पहनें। ये आपकी कुंडली के ग्रहों को आपके अनुकूल बनाए रखने का काम करेगा।

वृषभ राशि  :- शुक्र ग्रह की राशि वृषभ के जातकों को पन्ना पहनना चाहिए। यह इस ग्रह का शुभ रत्न कहलाता है और जीवन के मार्ग में आने वाली दिक्कतों को खत्म करता है साथ ही शांत बनाए रखता है।

मिथुन राशि  :- इस राशि के जातकों को गोल एवं चमकदार मोती रत्न पहनना चाहिए। यह रत्न इनके भाग्य को मजबूत बनाएगा और साथ ही इनकी आर्थिक स्थिति को भी जरूरत के हिसाब से सही बनाए रखेगा।

कर्क राशि :- कर्क राशि के जातकों को यदि संभव हो तो सोने की अंगूठी में माणिक्य जड़वा कर पहनना चाहिए। यह इन्हें सफलता प्रदान करता है।

सिंह राशि :- अग्नि तत्व की राशि सिंह के जातकों को पेरीडॉट रत्न पहनना चाहिए। एक तो यह राशि अग्नि तत्व की है और दूसरा सूर्य ही इनका स्वामी ग्रह है, यह रत्न इस राशि के जातकों के गुस्से को नियंत्रण में रख इन्हें सही मार्ग दिखाएगा।

कन्या राशि :- नीलम रत्न को कन्या राशि का भाग्य रत्न माना जाता है, इसलिए इस राशि के जातकों को नीलम पहन लेना चाहिए। नीलम रत्न के विषय में यह कहा गया है कि यह रातों रात व्यक्ति की लाइफ बदल सकता है, लेकिन ध्यान रहे कि बिना ज्योतिष सलाह के इसे धारण ना करें। क्योंकि इस रत्न को विनाशकारी भी माना गया है।

तुला राशि  :- इस राशि का स्वामी ग्रह शुक्र और शुभ रत्न ओपल है। ओपल इनके व्यवहार को मजबूत बनाकर इन्हें आगे बढ़ते रहने की शक्ति प्रदान करने का काम करेगा।

वृश्चिक राशि :- वृश्चिक राशि वालों के लिए टोपाज़ शुभ रत्न माना गया है। यह इनके भाग्य को चमकाने का काम करता है। वृश्चिक राशि के जातक इमोशनल भी होते हैं इसलिए इस पक्ष में भी यह रत्न इनकी सहायता करता है।

धनु राशि :- धनु राशि के जातकों के लिए फिरोज़ा भाग्यशाली रत्न माना गया है। फिरोज़ा कई प्रकार के रंगों में आता है, गहरा हरा या नीला, हल्का हरा या नीला या फिर नीले और हरे का मिश्रण बनाता हुआ फिरोज़ा भी मार्केट में पाया जाता है। ज्योतिष सलाह के बाद इस रत्न के सही रंग का चुनाव करके ही धारण करें।

मकर राशि :- मकर राशि के जातक भाग्य निर्माण के लिए गारनेट रत्न पहनें, ये रत्न आपको नकारात्मक ऊओर्जा से दूर रखेगा और जीवन में खुशियां ही खुशियां लाएगा।

कुंभ राशि :- कुंभ राशि के जातकों का स्वामी ग्रह अरुण है और भाग्यशाली रत्न एमेथिस्ट है। यह रत्न आसानी से मार्केट में उपलब्ध हो जाता है। इस रत्न को धारण करने से जीवन में संतुलन बना रहता है।

मीन राशि :- कुंभ राशि के जातकों का स्वामी ग्रह वरुण और लकी स्टोन एक्वामरीन है। इस रत्न को धारण करने वाले मीन राशि के जातकों का स्वभाव नियंत्रण में रहता है। यह रत्न उन्हें समस्याओं से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है।