अयोध्या से आज शुरू होगी राम राज्य रथयात्रा

अयोध्या। श्रीरामदास मिशन यूनिवर्सल सोसाइटी के महासचिव शक्ति शांतानंद महेश ने कहा है कि राम मंदिर के लिए अदालत के अंदर लड़ाई की जरूरत नहीं है, बल्कि सभी लोग मिलकर जन्मभूूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण कराएं।
विश्व हिन्दू परिषद मुख्यालय कारसेवकपुरम में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए महेश ने कहा कि मंगलवार (13 फरवरी) को अयोध्या की पावन धरती से रामेश्वरम के लिए रामराज्य रथ यात्रा निकल रही है जो पूरी तरह से अराजनीतिक है जिसमें कई हिन्दू वादी संगठन भी हमारी मदद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 6 राज्यों से होकर रथ यात्रा 24 मार्च को रामनवमी के दिन रामेश्वरम पहुंचेगी। यह पूरा कार्यक्रम 41 दिनों का है।

रथ यात्रा के माध्यम से 10 लाख लोगों से ज्यादा हस्ताक्षर जिसमें 10 हजार से अधिक संतों की स्वीकृति लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति को सौंपेंगे। उनसे मांग करेंगे कि विवादित श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण करा करके रामायण को सेलेबस में शामिल किया जाए। उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ गुरुवार को साप्ताहिक अवकाश और वर्ष में एक हिन्दू दिवस के रूप में घोषित किया जाए।

रथयात्रा के शुभारंभ पर पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने की बात की जा रही थी लेकिन सोमवार शाम तक मुख्यमंत्री का कोई अधिकृत कार्यक्रम नहीं आया है। आयोजकों का भी कहना है कि हमने सीएम को आमंत्रित किया था लेकिन अभी तक उनके आगमन की सूचना नहीं आई है। स्वामी कृष्णानंद सरस्वती ने बताया कि 13 फरवरी से शुरू होकर 25 मार्च तक चलने वाली यात्रा की तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं।