अलखधाम में रोज ऊधम, शराबखोरी से परेशान

उज्जैन। अलखधाम साईं मंदिर के निकट गुरुवार रात पार्षद पति दीपक बेलानी तथा अपराधी किस्म के युवाओं के बीच हुए विवाद तथा मारपीट मामले में क्षेत्रवासियों का कहना है कि सन्नी शर्मा, टूवी शर्मा, हिमांशु बारोड़ सहित अन्य युवा आए दिन क्षेत्र में ऊधम मचाते हैं।
क्षेत्र के रहवासी नितिन भीमवानी, शुभव बोबल, जयेश आहूजा, रिंकू परमार, कमल धनवानी, सिद्धांत अरोरा, शुभम अरोरा, शुभम राठौर आदि ने बताया कि पार्षदपति दीपक बेलानी ने इन युवाओं को पूर्व में भी समझाया था कि समीप ही साईं मंदिर में धार्मिक आयोजन तथा मूर्ति प्राण प्रतिठा समारोह चल रहा है। ऐसे में ऊधम न मचाए, शराब खोरी न करे।

इस समझाइश के बाद गुरुवार की रात पूर्ण: उक्त युवाओं ने शराब खोरी कर पार्षद रिंकू बेलानी के पुत्र सौरव बेलानी को रोक लिया। घटना मम्मी पार्षद रिंकू बेलानी को बताई। फोन कर पिता दीपक बेलानी को बुलाया तथा घटना क्रम बताया।

इस पर दीपक बेलानी व परिजन इन युवाओं से बात करने साईं मंदिर के समीप बनी मल्टी पहुंचे। यहां पहले से पत्थर आदि रख हमले की तैयारी में बैठै इन युवाओं ने गाली-गलौज करना आरंभ कर दिया तथा ऊपर से पत्थर फेंक सौरव बेलानी के बड़े भाई देवेश बेलानी का सिर फोड़ दिया। देवेश को परिजन संभाल रहे थे कि आठ दस युवाओं के साथ इन आरोपियों ने पार्षद पति व पुत्रों पर हमला बोल दिया।

यह घटना देख क्षेत्रवासी जुट गए और बदमाशों की धुनाई कर दी। क्षेत्र के रहवासियों ने कहा कि असामाजिक तत्वों का जमावड़ा इन बदमाशों के साथ रहता है। जिसमें से कुछ तो पूर्व में विश्वविद्यालय में हुए विद्यार्थी अपहरण काण्ड के आरोपी के साथी भी है। महिलाओं व बच्चियों का इस क्षेत्र में आना-जाना दुभर हो गया है।