इंदौर की 9 विधानसभा सीटों के वोटों की गणना करेंगे 600 कर्मचारी

इंदौर. विधानसभा चुनाव के लिए 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना के लिए जिले में 153 दल बनाए जाएंगे। हर दल में तीन कर्मचारी रहेंगे। लगभग 20 प्रतिशत कर्मचारी रिजर्व रखे जाएंगे। मतगणना में लगभग 600 कर्मचारी लगेंगे। बुधवार को देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के सभागृह में कर्मचारियों को पहले चरण का प्रशिक्षण दिया गया। दूसरे चरण का प्रशिक्षण 7 दिसंबर को सुबह 11 बजे से होलकर साइंस कॉलेज में दिया जाएगा।
पहले चरण में मास्टर ट्रेनर आरके पांडे ने प्रशिक्षण दिया। इस दौरान प्रेक्षक तथा विधानसभा क्षेत्रों के रिटर्निंग ऑफिसर तथा सहायक रिटर्निंग ऑफिसर भी मौजूद थे। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मतगणना कर्मियों को निर्देश दिए गए कि वे मतगणना को पूरी गंभीरता से लें। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाही करने वालों के खिलाफ सीधे निलंबन की कार्रवाई होगी। मतगणना कर्मियों को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा गणना के लिए तय की गई व्यवस्थाओं, जारी किए गए नियम और निर्देशों की जानकारी दी गई।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी रजनीश श्रीवास्तव ने बताया है कि वोट गिनने में जिस अमले को तैनात किया जाएगा, उसकी निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों का रैंडमली चयन किया जाएगा। इस तरीके के चलते किसी कर्मचारी को आखिरी समय तक यह मालूम नहीं होगा कि उसकी ड्यूटी किस टेबल पर लगेगी।