इंदौर में तेज बारिश, बड़वानी में मकान गिरने से महिला की मौत

इंदौर.शहर सहित प्रदेश के कई जिलों में पिछले 24 घंटे में तेज बारिश हुई। इंदौर में रातभर में 77 मिमी यानी 2.7 इंच पानी गिरा, जिस कारण निचले इलाकों में पानी भर गया। शाजापुर में तेज बारिश से नेशनल हाईवे-3 पर बने नए पुल की एप्रोच रोड बह गई है। वहीं बड़वानी में बारिश की वजह से एक कच्चा मकान गिर गया। मकान के नीचे दबने से एक महिला की मौत हो गई। उधर, मौसम विभाग ने गुरुवार को भी इंदौर संभाग सहित प्रदेश के कई जिलों में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है।

बड़वानी में भी बुधवार को रातभर तेज बारिश होती रही। बारिश के कारण सिलावद थाना के हीरकराया में एक कच्चा मकान गिरने से कारली बाई पति सांगिया की मौत हो गई। महिला लंबे समय से लकवे की बीमारी से पीड़ित थी। मकान गिरते समय वह बीमारी के कारण बाहर नहीं निकल पाई और मलबे के नीचे दब गई। उसे गुरुवार को बाहर निकाला गया। देवास जिले में तेज बारिश से कई इलाकों में पारी भर गया। वहीं उज्जैन में क्षिप्रा नदी भी उफान पर आ गई है।

तेज बारिश के बाद इंदौर में कई निचले इलाकों में पानी भर गया। पानी की सही निकासी नहीं होने से वार्ड 71 के रहवासी गुरुवार को नगर निगम पहुंचे और जमकर नारेबाजी की। द्रविड़ नगर झोन के चांदमारी बस्ती के रहवासियों का कहना था कि क्षेत्र से बहने वाले नाले पर कुछ फैक्ट्री संचालकों ने कब्जा कर लिया है। अवैध निर्माण से पानी निकलने में समस्या आती है, जिस कारण बारिश होते ही पानी घरों में घुसने लगता है। लोगों के गुस्से को देख झोनल अधिकारी खुद मौके पर पहुंचे और जल निकासी की उचित व्यवस्था करने की बात कही।