इलेक्ट्रीशियन ने लगाई फांसी

उज्जैन। गांधीनगर में रहने वाले इलेक्ट्रीशियन ने पत्नी वियोग में साड़ी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम कराया है।मनीष पाल पिता नंदू (44) निवासी गांधीनगर नागझिरी इलेक्ट्रीशियन का काम करता था। एक वर्ष पहले उसका विवाह हुआ था। करीब 4 माह पहले उसकी गर्भवती पत्नी मायके इंदौर चली गई थी। वहां उसने गर्भपात करा लिया। मनीष को जब इसकी जानकारी लगी तो उसने ससुराल पहुंचकर विवाद किया जिसके बाद पत्नी से मनीष के साथ लौटने से मना कर दिया।

मनीष के भाई सुनील पाल ने बताया कि पत्नी के वापस नहीं आने के कारण मनीष दु:खी रहता था। पांच दिनों पहले भी वह अपनी पत्नी को लेने इंदौर गया था लेकिन उसने आने से मना कर दिया। साथ ही मनीष को धमकी दी थी कि तुम्हें दहेज प्रताडऩा के केस में फंसा देंगे। घर लौटने के बाद मनीष काफी दु:खी था और डिप्रेशन में रहने लगा था। संभवत: पत्नी वियोग में ही उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। पुलिस द्वारा मृतक के ससुराल पक्ष के लोगों के बयान लेकर पूछताछ भी की जा रही है।