भारत ने सिडनी में तीसरी बार बनाया 600 से बड़ा स्कोर

ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया के सात विकेट पर 622 रन पारी समाप्त घोषित के विशाल स्कोर के जवाब में चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को यहां अपनी पहली पारी में बिना किसी नुकसान के 24 रन बनाए.

ऑस्ट्रेलिया अब भी भारत से 598 रन पीछे है. दिन का खेल खत्म होने के समय मार्कस हैरिस 19 और उस्मान ख्वाजा पांच रन पर खेल रहे थे.इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम ने अपनी पहली पारी सात विकेट गंवाकर 622 रनों के विशाल स्कोर पर घोषित कर दी. टीम इंडिया दिन के तीसरे सत्र में शानदार बल्लेबाजी कर रही थी और भारतीय बल्लेबाज ऋषभ पंत (159) नाबाद रहे. भारत ने चायकाल तक चेतेश्वर पुजारा की शानदार 193 रनों का पारी के दम पर, छह विकेट के नुकसान पर 491 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर लिया था. इसके बाद तीसरे सत्र में पंत ने रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर सातवें विकेट के लिए 204 रनों की शानदार दोहरी शतकीय साझेदारी कर टीम को 622 के स्कोर तक पहुंचाया.

भारतीय बल्लेबाजों द्वारा सातवें विकेट के लिए की गई यह दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है. इस सूची में पूर्व भारतीय बल्लेबाजों वीवीएस लक्ष्मण और अजय रात्रा द्वारा वेस्टइंडीज के खिलाफ 2002 में सातवें विकेट के लिए की गई 217 रनों की साझेदारी पहले स्थान पर है. इसी स्कोर पर नाथन लॉयन ने जडेजा को बोल्ड कर भारतीय टीम का सातवां विकेट गिराया और इसी स्कोर पर मेहमान टीम ने अपनी पहली पारी घोषित कर दी. पंत ने 189 गेंदें खेली और 15 चौके एवं एक छक्का लगाया, वहीं जडेजा ने 114 गेंदें खेलते हुए सात चौके और एक छक्का लगाया.

इससे पहले दिन के दूसरे सत्र में चेतेश्वर पुजारा भारत की पारी में दोहरा शतक लगाने से चूक गए. उन्हें 193 के निजी स्कोर पर नाथन लॉयन ने अपनी ही गेंद पर कैच कर पवेलियन वापस भेजा. अपनी पारी में पुजारा ने 373 गेंदों का सामना किया जिसमें 22 चौके शामिल रहे. इससे पहले पुजारा को 192 के निजी स्कोर पर लॉयन की गेंद पर ही जीवन दान मिला था. यहां उस्मान ख्वाजा ने स्लिप पर उनका कैच छोड़ा था. पुजारा का यह हालांकि विदेशी जमीन पर सर्वोच्च स्कोर है. इससे पहले विदेशों में उनका सर्वोच्च स्कोर 153 था जो उन्होंने जोहान्सबर्ग में 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बनाया था.
ऑस्ट्रेलिया के सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर भारतीय टीम द्वारा बनाया गया यह दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. 2004 में भारत ने इसी मैदान पर सात विकेट पर 705 रन बनाकर अपनी पारी घोषित की थी.

इसके अलावा पंत की पारी किसी एशियाई विकेटकीपर द्वारा उप-महाद्वीप के बाहर बनाई गई सबसे बड़ी पारी है. इससे पहले पिछले साल 2017 में वेलिंग्टन में बांग्लादेश के विकेटकीपर मुश्फिकुर रहीम ने 159 रनों की पारी ही खेली थी. लेकिन वह आउट हुए थे और पंत इसी पारी पर नाबाद लौटे.ऑस्ट्रेलिया के लिए इस पारी में नाथन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं जोश हेजलवुड को दो विकेट हासिल हुए. मिशेल स्टॉर्क को एक सफलता हाथ लगी.