कई बीमारियों की वजह बनता है हाई बीपी, जानिए कंट्रोल करने के नैचुरल तरीके

पुराने जमाने में लोगों को 60-70 की उम्र के बाद हाई ब्लड-प्रैशर की बीमारी होती थी, लेकिन कार्डियोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया के द्वारा किए गए शोध के मुताबिक प्रत्येक वर्ष देश में हर पांच पुरुष नौजवान में से 1 की मौत हाई बल्ड प्रेशर की वजह से होती है। इसका मुख्य कारण बढ़ता तनाव और गलत खान-पान है। ब्लड प्रेशर एक नहीं अनेकों बीमारियों का कारण बनता है। चलिए जानते हैं आखिर हाई बल्ड प्रेशर और किन-किन बीमारियों को बुलावा देता है…

दिल और दिमाग को कमजोर करता है हाई ब्लड प्रैशर
हाई बल्ड प्रेशर का सबसे अधिक असर दिलों-दिमाग पर पड़ता है। इस वजह से हार्ट-अटैक, कार्डियक अरेस्ट और ब्रेन स्ट्रोक होने का डर रहता है। कई बार तो हाई बी-पी की वजह से इंसान अपाहिज भी हो जाता है। ब्लड-प्रेशर को कंट्रोल में रखना कोई इतनी मुश्किल बात नहीं हैं, थोड़ी सी कसरत और हैल्दी खान-पान के साथ आप इस जानलेवा बिमारी की चपेट में आने से बच सकते हैं साथ ही इससे पीड़ित लोग भविष्य में होने वाली अन्य बीमारियों से भी खुद को बचा कर रख सकते हैं…

व्यायाम पर दें जोर
हर-रोज सुबह उठकर 40 मिनट की गई वॉक आपके ब्ल्ड प्रेशर को 10 hm तक कम कर देती है। आप चाहें तो ऐरोबिक, स्विमिंग, जॉगिंग और रनिंग करके भी ब्ल्ड प्रेशर को मैनेज कर सकते हैं। अगर कभी आपको तेज सिर दर्द, सांस फूलना, घबराहट, चक्कर आना, सीने में दर्द या उल्टी महसूस हो तो फौरन डॉक्टर को दिखाएं। कभी भी खुद से हई ब्लड प्रेशर की दवाई न खाएं। दवा लेने से पहले एक बार डॉक्टर को जरूर दिखा लें।

सोडियम का सेवन कम करें
अगर आपका ब्लड प्रेशर भी ज्यादा रहता है तो तुरंत खाने में नमक की मात्रा कम कर दीजिए। ज्यादा ऑयली फूड का सेवन भी आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए स्वस्थ रहने के लिए इन चीजों से जितना हो सके दूरी बनाए रखें।

नशे वाली चीजों से रहें दूर
शराब आपके ब्लड प्रेशर को बढ़ाने का काम करता है। इसलिए इस बीमारी से पीड़ित लोगों को शराब या फिर किसी अन्य नशीली वस्तु का सेवन नहीं करना चाहिए।

आहार में करें बदलाव
अपने आहार में सब्जियां, खासकर पत्तेदार साग, टमाटर, आलू और शकरकंद,फल, खरबूजे, केले, एवोकाडो, संतरे का सेवन करें। डेयरी प्रॉडक्टस जैसे कि दूध, दहीं, पनीर और लस्सी का सेवन अधिक से अधिक करें।

कैफीन से रहें दूर
हाई बल्ड प्रेशर वालों को कॉफी का सेवन कम से भी बहुत कम करना चाहिए।

अपने स्ट्रेस को मैनेज करना सीखें
अपने घर और ऑफिस के कामों को मैनेज करना सीखें। अपना हर काम समय पर निपटाने से आपका दिमाग स्ट्रैस फ्री रहता है जिसकी वजह से आप बीमारियों की चपेट में आने से बच जाते हैं।

गुस्से पर रखें कंट्रोल
गुस्सा एक नहीं अनेकों बीमारियों का कारण है। साल में 200 से अधिक मौतें हाई बल्ड प्रेशर की वजह से होती है, जिसका कारण अधिक गुस्सा करना है।

डार्क चॉकलेट खाएं
वैसे तो चॉकलेट खाना सेहत के लिए हानिकारक होता है। लेकन डार्क चॉकलेट में ऐसे बहुत से गुण पाएं जाते हैं जो हाई बल्ड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है।