कड़क है आपका बॉस, तो उससे भी सीख सकते हैं बेहतर प्रोफेशनल होने की ये 4 पॉजिटिव बातें

ऑफिस में अक्सर बॉस की डांट सुनने के बाद आप तनाव में आ जाते हैं। ज्यादातर बॉस अपने काम को लेकर कड़क होते हैं और इसलिए आपको पसंद नहीं आते हैं। अगर आप थोड़े शांत दिमाग से सोचें और देखें, तो आपको अपने कड़क बॉस से भी सीखने के लिए कई पॉजिटिव बातें मिल सकती हैं। आइए आपको बताते हैं कि अगर आपका बॉस कड़क है, तो आपको उससे कौन सी बातें सीखनी चाहिए।

आपको पता होना चाहिए कि आपको क्या चाहिए

आपको बॉस को हमेशा पता होता है कि उसे कंपनी की ग्रोथ के लिए किस कर्मचारी से कितना और कौन सा काम करवाना है। इसके लिए वो आपको निर्देश भी देते हैं। कड़क बॉस की एक खास बात ये होती है कि वो आप पर रौब जमाने के लिए अपने निर्देशों को हमेशा साफ-साफ बताते हैं और इसके बावजूद काम ठीक न होने पर आपको डांटते हैं।

ये गुण एक लीडर के लिए बहुत जरूरी हैं। आपको हमेशा पता होना चाहिए कि आपको सामने वाले व्यक्ति से क्या अपेक्षाएं हैं और अपनी बातों को उसे स्पष्ट करना भी आपको आना चाहिए।

बिना प्रशंसा की चाहत के काम करें

जो बॉस स्वभाव से थोड़ा कड़क होते हैं, वो मुश्किल से ही किसी कर्मचारी के काम की तारीफ करते हैं। ऐसे में आपको धीरे-धीरे ये आदत डाल लेनी चाहिए कि आप बिना किसी प्रशंसा की चाहत के काम कर सकें।

इस पॉजिटिव बात को अगर आप अपनी निजी जिंदगी में भी शामिल कर लेंगे, तो आपके लिए कोई काम कभी बोझ नहीं होगा। हम काम को बोझ आमतौर पर तभी समझते हैं, जब उसके करने से हमें कोई फायदा नहीं होता है।

क्वालिटी से समझौता न करें

क्वालिटी से समझौता न करने की बात भी आप अपने बॉस से सीख सकते हैं। सप्ताह के 4 दिन आपने भले अच्छा काम किया हो मगर यदि 1 दिन भी आप काम में क्वालिटी से समझौता करते हैं, तो बॉस से आपको डांट पड़ती है। इसका मतलब है कि हमें कभी भी काम की क्वालिटी से समझौता नहीं करना चाहिए।

अपनी हर चीज को व्यवस्थित रखें

बेहतर लीडर होने का एक मुख्य गुण ये भी है कि आप अपनी सभी चीजों को हमेशा व्यवस्थित रखते हैं। अगर आपके बॉस कड़क हैं, तो आप उनके बताए हुए कामों को सही समय पर करते हैं और फाइल आदि को सही जगह पर रखते हैं, ताकि वो आपको जरूरत पड़ने पर मिल जाएं। इसी तरह अपनी निजी जिंदगी में भी चीजों को ऐसे व्यवस्थित रखें कि जरूरत पड़ने पर वो तुरंत मिल जाएं।