कांग्रेस में चार टिकट लगभग फाइनल

उज्जैन। विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा कांग्रेस दोनों दलों के दावेदार सक्रिय बने हुए हैं और वरिष्ठ नेताओं के प्रयास से टिकट लाने के प्रयास में है। कांग्रेस में टिकट को लेकर घमासान बना हुआ है। दिल्ली में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक रखी गई जिसमें मौजूद वरिष्ठ नेता मधुसूदन मिस्त्री की मौजूदगी में प्रदेश के कद्दावर नेता दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं अन्य मौजूद रहे। प्रदेश के वरिष्ठ नेता अपने-अपने समर्थकों के नाम आगे बढ़ाने में लगे हुए हैं। उज्जैन आलोट संसदीय क्षेत्र की आठ विधानसभा क्षेत्रों में से चार सीटों पर नाम लगभग तय हो गए हैं लेकिन अभी इसकी अधिकृत रूप से घोषणा नहीं की गई है।

सूत्रों के मुताबिक आलोट विधानसभा क्षेत्र से पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू, तराना विधानसभा क्षेत्र से जिला पंचायत अध्यक्ष महेश परमार, नागदा खाचरौद विधान सभा सीट से पूर्व विधायक दिलीपसिंह गुर्जर और महिदपुर से सरदारसिंह चौहान के नाम पर सहमति बनी है। जबकि उज्जैन उत्तर, उज्जैन दक्षिण, बडऩगर और घट्टिया विधानसभा क्षेत्र में अभी नाम तय नहीं हो पा रहे हैं।

घट्टिया विधानसभा क्षेत्र में तो कांग्रेस से दावेदारी करने वालों मेंं दो दर्जन से ज्यादा नेता शामिल थे। लेकिन उसके बाद चार नाम ही ऊपर पैनल में भेजे गए।

उज्जैन दक्षिण में भी दावेदारी करने वालों में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव के समर्थक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव चेतन यादव, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के समर्थक जयसिंह दरबार, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक बीनू कुशवाह आदि शामिल है। उज्जैन उत्तर से भी दावेदारी करने वालों में कई नेता शामिल है। जो कि वरिष्ठ नेताओं के समर्थक हैं इसलिए नाम तय करने में माथापच्ची हो रही है। माना जा रहा है कि प्रदेश के कद्दावर माने जाने वाले तीनों नेताओं की सहमति के बाद ही नामों की घोषणा हो पाएगी।