कामयाबी दिलाने में सहायक हैं ये 5 बातें, आज से अपनाएं

कई बार हमें लगता है जीवन में कुछ भी हमारे मुताबिक नहीं हो रहा है। हम जैसा चाहते हैं, किसी काम के हमें वैसे नतीजे नहीं मिलते हैं। इसके लिए हम कभी हालात का रोना रोते हैं, तो कभी किस्मत पर ठीकरा फोड़ देते हैं। मगर बदलाव की जरूरत हमें सबसे ज्यादा खुद हमें होती है। हालांकि समय एक सा नहीं रहता है, मगर समय बदलने के इंतजार में हम हाथ पर हाथ रखकर भी तो नहीं बैठ सकते हैं ना। तो आइए आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जिन्हें अपनाने से आपकी जिंदगी बदल सकती है। आइए जानते हैं इनके बारे में

समय के अनुसार खुद को ढालें:
स्मार्ट बनें क्योंकि यह जमाना बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। समय और परिस्थिति के हिसाब से जितनी जल्दी हो सके खुद को ढालने की कोशिश करें। आज में रहकर 30 साल पीछे की बात करना बेवकूफी है। ऐसा करने से बचें। कई बार लक्ष्य बहुत कठिन होता है और हमारी योग्यताएं छोटी होती हैं। ऐसे में एक ही लक्ष्य पर लकीर के फकीर ना बनें। अपनी योग्यताओं और क्षमताओं को समझें और उसके हिसाब से लक्ष्य तय करें।

मेहनत के लिए तैयार रहें:
मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है। करियर, प्रोफेशन और निजी जिंदगी से जुड़ी हर व्यक्ति की कुछ इच्छाएं होती हैं। ज्यादातर लोग अपने सपनों को पूरा करने की प्लानिंग भी करते हैं। यह सच है कि सपनों को पूरा करना आसान नहीं होता है। सिर्फ अच्छी प्लानिंग से लक्ष्य नहीं पाया जा सकता है। इसके लिए उतनी ही मेहनत भी करनी पड़ती है। लक्ष्य प्राप्ति के रास्ते में इस बात का ध्यान रखें कि मेहनत, प्लानिंग, स्मार्टनेस और सही दिशा में हो।

उम्मीद कायम रखें :
किसी भी हालात में खुद को कमजोर न समझें। हर परिस्थिति में आत्मविश्वास बनाएं रखें। इस बात पर विचार करें कि एक व्यक्ति एक काम कर सकता है तो दूसरा क्यों नहीं कर सकता? प्लानिंग करें और अपने आदर्श बनाएं। आलोचनाओं से सबक लें, उनसे निराश होकर न बैठें।

मुश्किलों से घबराना ठीक नहीं :
किसी की जिंदगी में सबकुछ एक सा नहीं रहता। कुछ चीजें अच्छी होती हैं तो कुछ खराब। लेकिन ध्यान रखें आगे बढ़ना है तो पहला सक्सेस मंत्र है अच्छी बातों को याद रखें और उनसे प्रोत्साहन लेते रहें। जिन बातों को याद कर तकलीफ, हो उन्हें छोड़ना ही उचित रहता है। गलतियां हुईं हैं तो उनसे सीखो और आगे बढ़ जाओ।

डिफेंसिव होने की बजाए एक्शन मोड चुनें :
यह सही है कि हर कदम सोच-विचार कर लेना चाहिए, मगर हमेशा डिफेंसिव होने से काम नहीं चलता। जीवन में कभी-कभी आक्रामक रुख भी अख्तियार करना पड़ता है। इससे घबराएं नहीं। अपने आपको ऐसी परिस्थितियों के लिए भी तैयार रखें। और जब किसी काम के लिए कदम बढ़ा दें, तो उसे पूरा करने के लिए सभी जतन करें।