खरीदी कर ली, अब भंडारण की मुसीबत

उज्जैन। भावांतर योजना के तहत सरकार ने सोसायटियों के जरिए गेहूं तो खरीद लिया है लेकिन भंडारण के लिए जगह नहीं मिल रही है। यहां सोयाबीन प्लांट के गोदामों में यह गेहूं रखा जा रहा है। रात से देवास रोड नागझिरी सोयाबीन प्लांट के बाहर गेहूं से लदे ट्रकों की कतार लगी हुई है। भावांतर योजना में मुश्किल से किसानों का गेहूं फसल विक्रय के लिए पंजीयन हो पाया है। इसके बाद किसानों ने सड़कों पर तपते हुए लंबे इंतजार के चलते जैसे-तैसे सोसायटियों की तुलवाई करवाई। अब यह सोसायटियों को तुला हुआ गेहूं गोडाउनों में रखने की जगह नहीं है।

रात से महिदपुर, तराना, नागदा, खाचरौद, उन्हेल आदि क्षेत्रों से सोसायटियों का तुला हुआ माल यहां ट्रकों में लदान कर सोयाबीन प्लांट नागझिरी भेजा है। यहां ट्रकों की कतार लगी है। एसडीएम क्षितिज शर्मा ने भी निर्देशित किया है तुले हुए माल का इलेक्ट्रॉनिक कांटे से सत्यापन कराने के बाद गोदाम में रखने की व्यवस्था की जाए।