चाय या कॉफी नहीं, इन 5 चीज़ों को खाएंगे तो नहीं लगेगी ठंड

सर्दी बहुत है और तमाम लेयर्स पहनने के बावजूद ठंड लग रही है. मोटे-मोटे कपड़ों के साथ सिर पर टोपी, हाथों में ग्लव्स, पैरों में मोज़ें और गले में मफलर पहनने के बावजूद ठंड कम लगने का नाम नहीं ले रही है. लोग ठंड से बचने के लिए घरों में हीटर और बाहर आग जलाकर हाथ-पैरों को गर्म करने में लगे हुए हैं. इसके साथ ही चल रही है पूरे दिन चाय और कॉफी, जिसका ज़्यादा सेवन भूख खत्म कर रहा है. भूख का कम होना मतलब ज़रूरी प्रोटीन और विटामिन्स का शरीर में कम जाना, जिससे बीमारियां जल्दी लगने का खतरा रहता है. अब ऐसे में क्या खाएं, जो शरीर को गर्माहट भी दे और बीमारियों से दूर भी रखे.

1. घी
लोगों को लगता है कि घी सिर्फ शरीर को मोटा करता है, लेकिन ये पूरा सच नहीं है. कई स्टडीज़ में घी को शरीर के लिए हेल्दी माना है. ये ना सिर्फ आपके बॉडी को शेप में रखता है बल्कि रोज़ाना 15 ग्राम घी का सेवन शरीर को गर्म भी रखता है. गर्माहट के साथ-साथ यह स्किन को ड्राय होने से भी बचाता है.

2. हल्दी वाला दूध
हल्दी की एंटीबायोटिक्स प्रॉपर्टीज़ और दूध में मौजूद कैल्शियम जब ये दोनों एक साथ मिलते हैं तो हल्दी दूध के गुण और भी बढ़ जाते हैं. ठंड से आपको बचाने के साथ-साथ हल्दी वाला दूध पीने से नींद भी अच्छी आती है. इसके अलावा यह पीरियड्स के दर्द को कम करता है, सर्दी-खांसी दूर करता है, वज़न कम करता है और हड्डियां भी मज़बूत बनाता है.

3. मिर्च
आपने देखा होगा कि मिर्च या तीखा खाकर शरीर में गर्मी आ जाती है! इसकी वजह है मिर्च में मौजूद कैप्साइसिन. यह शरीर में दर्द मिटाने वाली क्रीमों में भी इस्तेमाल किया जाता है. इसके अलावा यह नासिका मार्ग (नोज़ल पैसेज) को खोलने में भी मदद करता है. इसीलिए सर्दियों में अपने खाने के साथ एक या दो हरी मिर्च ज़रूर खाएं. अगर हरी मिर्च नहीं खा सकते तो खाने में काली मिर्च का इस्तेमाल करें.

4. गुड़
ये ना सिर्फ पाचन क्रिया को दुरुस्त करता है बल्कि शरीर को सर्दी-खांसी से भी बचाता है. कई विटामिन्स, मिनरल्स जैसे फॉस्फोरस, आइरन, मैग्निशियम और पोटेशियम से भरपूर गुड़ माइग्रेन, अस्थमा, थकान और बदहजमी में लाभ पहुंचाता है. इसी वजह से सर्दियों में रोज़ाना थोड़ी मात्रा में गुड़ खाना चाहिए. अगर कफ की परेशानी हो तो गुड़ को अदरक के साथ खाएं.

5. मेवे
खाने में बादाम, पिस्ता, अखरोट से ज़्यादा गर्म कुछ नहीं होता. इसीलिए 5 से 6 की मात्रा में रोज़ाना या तो सुबह नाश्ते में या फिर शाम को खाएं. आप चाहे तो इसे अपने खाने जैसे ओट्स, दलिया या दूध में मिलाकर भी खा सकते हैं. आप चाहे तो मूंगफली का सेवन भी कर सकते हैं.