झगड़े के समय अपने साथी से कभी ना कहें यह बातें

रिश्‍तों को तोड़ने जितना आसान काम कोई नहीं होता और इसके बाद होने वाला दिल का दर्द भी कोई नहीं समझ सकता. अक्‍सर जब कोई रिश्‍ता टूटता है तो उसके पीछे कोई न कोई ठोस वजह जरूर होती है. लेकिन कई बार रिश्‍ता क्‍यों टूटा इसका पता ही नहीं चल पाता.

कहीं आप भी बेवजह अपने रिश्‍ते को तोड़ने में तो नहीं लगे हुए हैं. अगर आपके दिमाग में भी ऐसा ही कुछ चल रहा है तो ब्रेकअप करने से पहले एक बार अपने रिश्‍ते को एक मौका जरूर दें.

अपने मन और दिमाग में चल रही उथल पुथल को जाने और शांत होकर सोचें कि क्‍या आप सच में ब्रेकअप करना चाहते हैं? ब्रेकअप करने की कोई ठोस वजह है भी या नहीं… आपके मन की उलझन को सुलझाने में मदद करेंगे कुछ सुझाव.

ब्रेकअप करने से पहले जानें ये 5 बातें…

1. क्‍या वह आपको टाइम नहीं देते?

किसी भी रिश्‍ते में ताजगी बनाएं रखने का एक ही तरीका है एकदूसरे को भरपूर समय देना. आपका समय एक आपके पार्टनर के लिए किसी कीमती तोहफे से भी ज्‍यादा होता है जो उन्‍हें सारे जहां की खुशियां दे सकता है . अगर आपका पार्टनर आपके साथ समय बिताने को बेताब रहता है तो फिर आप लकी हैं क्‍योंकि समय से कीमती कुछ नहीं. इतने प्‍यारे साथी को भूल से भी न जानें दें.

2. क्‍या वह आपका सम्‍मान नहीं करते?

ब्रेकअप करने की एक और महत्‍वपूर्ण वजह होती है आपस में एक दूसरे का सम्‍मान न होना. लेकिन आपके रिश्‍ते में अगर आपका पार्टनर आपको, आपके काम को और आपसे जुड़े हर इंसान को सम्‍मान देता है तो फिर आपको ऐसे रिश्‍ते को खत्‍म करने से पहले एक बार सोच लेना चाहिए.

3. क्‍या वह आपको धोखा दे रहे हैं?

किसी भी रिश्‍ते में प्‍यार, सम्‍मान के साथ ही विश्‍वास का होना भी बहुत जरूरी है. अगर आपका पार्टनर आपको अपने हर सच और झूठ के बारे में बताता है. उन्‍होंने अभी तक आपको किसी भी तरह के धोखे में नहीं रखा है तो आपको ब्रेकअप से पहले कोई और ठोस वजह ढूंढनी चाहिए.

4. कहीं आपका मानसिक तनाव तो नहीं बन रहा वजह?

कई बार हम समझ नहीं पाते कि हमारा मानसिक तनाव हमारे अच्‍छे चल रहे रिश्‍ते को खत्‍म करने की वजह बन जाता है. अगर आपको अपने पार्टनर पर बेवजह गुस्‍सा आता है. आप बात बेबात उन पर बरस पड़ते हैं और वह प्‍यार से आपकी हर बात सुनते-समझते हैं तो यह रिश्‍ता आपकी जिंदगी का सबसे अच्छा तोहफा है इसे तोड़े नहीं बल्कि सहेज लें.

5. कहीं आप विकल्‍प तो नहीं तलाश रहे?

इंसान की फितरत बड़ी खराब होती है. जिंदगी में सब अच्‍छा चल रहा हो तो भी हमें कुछ खाली सा लगता ही रहता है. कई बार पार्टनर के साथ ट्यूनिंग मैच नहीं होती या फिर आपकी आदतें अलग होती हैं, पसंद-नापंसद एक सी नहीं होती लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप वि‍कल्‍प तलाशने लगें. दो अलग स्‍वभाव के लोग अक्‍सर बेस्‍ट कपल बनते हैं . अपने प्‍यारे से रिश्‍ते को संजोकर रखें. बेवजह के तनाव या बातों में आकर अपनी जिंदगी के हसीन पलों को खुद से ही खराब करने से बचें.