डांस क्लास की आड़ में चल रहा था देह व्यापार, 7 युवतियां पकड़ाई

जूनीइंदौर पुलिस ने शुक्रवार शाम सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। यह रैकेट पिछले एक माह से हाइप्रोफाइल तरीके से संचालित हो रहा था। व्हॉट्सऐप के जरिए कॉलगर्ल की तस्वीरें ग्राहकों तक पहुंचाई जाती थी। दलाल के जरिए हर घंटे का रेट तय किया जाता था। इसी आधार पर कॉलगर्ल को ठिकानों तक पहुंचाया जाता था। मुंबई, कोलकाता, गाजियाबाद की लड़किया धंधे में लिफ्त थी। दोनों संचालिका पहले भी देहव्यापार में शामिल होने के चलते गिरफ्तार हो चुकी है।

पुलिस के मुताबिक सपना संगीता टॉकीज के सामने बनी व्यवसायिक इमारत मिशिका टॉवर की दूसरी मंजिल पर डांस क्लास की आड़ में सैक्स रैकेट संचालित होने की सूचना मिली थी। टीआर्ई दिलीप गंगराड़े ने बताया कि आरक्षक सचिन को ग्राहक बनाकर भेजा गया था। वह ढाई हजार रुपए लेकर गया था। दलाल ने सौदा भी तय कर लिया था। सूचना पुख्ता होने के बाद टीम ने दबिश देकर रैकेट संचालित करने वाली मीना रघुवंशी निवासी कालानी नगर और अमरीन निवासी खजराना को पकड़ लिया। इनके साथ फ्लैट पर मौजूद कोलकाता की दो, गाजियाबाद की एक, मुंबई की एक और इंदौर की एक युवती को गिरफ्तार किया गया।

दलाल बिल्डिंग के नीचे खड़ा रहकर ग्राहकों से रेट तय करता था। दो से पांच हजार में कॉलगर्ल को उनके पास भेजा जाता था। इन युवतियों की फोटो वहॉट्सऐप के जरिए ग्राहकों तक पहुंचाई जाती थी। पूछताछ में मीना और अमरीन ने बताया कि मकान मालिक से डांस क्लास चलाने के लिए किराए पर फ्लैट लिया था। मीना हीरानगर और अमरीन पहले कनाडिया क्षेत्र में देह व्यापार चलाते पकड़ाई थी। सेक्स रैकेट में शामिल सभी युवतियों से पूछताछ की जा रही है। गिरोह में शामिल अन्य लोगों की तलाश जारी है। पुलिस मकान मालिक को भी आरोपी बनाएगी।