तोडफ़ोड़ करने असामाजिक तत्वों पर कार्रवाई नहीं तो फिर करेंगे विचार

उज्जैन। कल मोहर्रम जुलूस के दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा पटनी बाजार, बर्तन बाजार और लखेरवाड़ी में तोडफ़ोड़ व उत्पात मचाया गया था। पटनी बाजार में एक दुकान के बाहर बने गणेश पंडाल में भी तोडफ़ोड़ हुई। इसके विरोध में व्यापारियों ने मंगलवार को दुकानें बंद रखकर विरोध दर्ज कराया। साथ ही कलेक्टर व एसपी से उत्पात मचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

पुलिस अधिकारी मामले में सीसीटीवी फुटेज चैक करने के बाद कार्रवाई की बात कह रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि यदि ठोस कार्रवाई नहीं होती तो फिर एसपी से शिकायत के साथ ही अन्य विकल्प पर विचार किया जायेगा।

सराफा व्यापारी एसोसिएशन ने पटनी बाजार में एक दुकान के अंदर गणेशजी की स्थापना की और बाहर तख्त लगाकर सजावट की थी। मंगलवार अल सुबह मोहर्रम जुलूस से लौट रहे युवकों ने यहां लगे गमले, एलईडी सीरज तोड़ दी, इसके बाद एक दुकान पर लगे धर्मकांटे का पाइप उखड़कर ले गये। लखेरवाड़ी और बर्तन बाजार में भी दुकानों के बाहर लगे बल्ब फोड़े थे। रोजाना की तरह सुबह दुकान खोलने पहुंचे व्यापारियों ने जब नजारा देखा तो उनमें आक्रोश व्याप्त हो गया उन्होंने दुकानें बंद कर विरोध किया।

इसकी जानकारी मिलने के बाद एसडीएम यहां पहुंचे और पटनी बाजार, बर्तन बाजार के व्यापारियों से ज्ञापन लेकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया था। वहीं एएसपी सिटी रूपेश द्विवेदी का कहना था कि सीसीटीवी फुटेज देखकर उत्पातियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किये जाएंगे, लेकिन बुधवार सुबह तक किसी भी थाने में पुलिस ने प्रकरण दर्ज नहीं किया।

गुदरी बाजार व्यापारी एसोसिएशन के विकास खंडेलवाल ने चर्चा में बताया कि ज्ञापन देने के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा की जाने वाली कार्रवाई का इंतजार कर रहे हैं, शाम तक असामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो एसपी से शिकायत करने के साथ आगे विचार किया जायेगा।

एक आरोपी वेरिफाई
घटना से जुड़े सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। पटनी बाजार में गणेश पंडाल से पाइप निकालने वाला एक युवक फुटेज में दिखाई दे रहा है, जिसे वेरिफाई किया है। मामले में अभी तक कोई प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है।
रुपेश द्विवेदी, एएसपी शहर