देर रात तक गूंजी पटाखों की आवाज़, एक भी पटाखेबाज नहीं पकड़ाया

उज्जैन। सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देश के बाद भी उज्जैन में दीपावली पर देर रात तक पटाखे जलाए जाते रहे। इन पटाखों की आवाज़ों से समूचा शहर रातभर गूंंजता रहा, बावजूद पुलिस ने एक भी पटाखेबाज के खिलाफ कोई कायमी नहीं की। हालांकि हर साल की अपेक्षा इस बार पटाखों की गंूज कुछ कम रही और शहरी इलाकों में इसे लेकर पुलिस सतर्क भी रही। पटाखों को लेकर पुलिस ने गैरजिम्मेदार पटाखेबाज के खिलाफ एक भी कायमी नहीं की।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक शहर में दीपावली को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत शहर में दो घंटे की पटाखों छोड़े जाने की तय सीमा रेखा का पालन हुआ। एडी. एसपी अभिजीतरंजन के अनुसार दीपावली पर समूचा पुलिस स्टॉप सर्तक रहा। पुलिस पेट्रोलिंग भी लगातार की जाती रही, इसी का प्रभाव यह रहा कि शहर में रात्रि ८ से १० की समय सीमा को छोड़कर कहीं भी कोई पटाखे नहीं छोड़े गये और ना ही कहीं से भी कोई शिकायत की गई। इसे लेकर अब तक कोई मामला भी दर्ज नहीं हुआ।