देवर्षि नारद ने लोक कल्याण और समाज जागरण का अनुपम दर्शन प्रस्तुत किया

उज्जैन। विश्व संवाद केंद्र द्वारा शनिवार को आद्य संवाददाता देवर्षि नारद जयंती मनाई गई। इस अवसर पर परिचर्चा हुई। मुख्य वक्ता सर्वोच्च न्यायालय की अधिवक्ता और डिबेट पैनलिस्ट मोनिका अरोड़ा थीं। उन्होंने स्वस्थ लोकतंत्र में मीडिया की भूमिका विषय पर व्याख्यान दिया। उन्होंने कहा विभिन्न मीडिया के साधनों द्वारा पत्रकारिता क्षेत्र से जुड़े सभी जन देश में लोकतांत्रिक मूल्यों की स्थापना और संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। आद्य संवाददाता और निष्पक्ष पत्रकारिता के आदर्श देवर्षि नारद ने लोक कल्याण और समाज जागरण का अनुपम दर्शन प्रस्तुत किया है जो इस क्षेत्र से जुड़े सभी के लिए अनुकरणीय है।

शनिवार शाम निजातपुरा स्थित होटल में परिचर्चा कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। प्रारंभ भारत माता और देवर्षि नारद के चित्र के सम्मुख अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन किया गया। सुदर्शन सोहनी द्वारा एकल गीत प्रस्तुत किया गया। अध्यक्षता विक्रम विवि के कुलपति डॉ. बालकृष्ण शर्मा ने की।

विशेष अतिथि सिटी प्रेस क्लब अध्यक्ष शैलेंद्र कुल्मी थे। अतिथियों को स्मृति चिह्न भेंट किये गये। इस अवसर पर शहर के विभिन्न मीडिया संस्थानों के पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता, प्रबुद्ध जन उपस्थित रहे। संचालन धर्मेंद्र सिंह परिहार ने किया। आभार लोकेंद्र शर्मा ने माना।