नवदुर्गा इलेवन ने जीती सद्भावना क्रिकेट ट्रॉफी

उज्जैन। आम तौर पर खेलों में ही सद्भाव और मैत्री भाव को प्रमुख माना जाता है परंतु मानव जीवन में भी इसकी मुख्य भूमिका है। सद्भावना और मैत्री भाव के बिना मनुष्य जीवन में सफलता संभव नहीं है।

यह बात क्षीरसागर स्टेडियम में आयोजित सद्भावना क्रिकेट ट्रॉफी के अंतिम दिन शहर कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष विवेक यादव ने विजेता टीम को पुरस्कृत करते हुए कही।

फाइनल मुकाबला नवदुर्गा इलेवन एवं रंगीला एकादश के बीच हुआ। रंगीला एकादश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 ओवरों में 8 विकेट पर 52 रन बजान।

जवाब में नवदुर्गा इलेवन ने 5 विकेट खोकर 7.4 ओवर में लक्ष्य हासिल कर सद्भावना क्रिकेट ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। विजेता टीम को ट्रॉफी व 51,000 रुपए तथा उप विजेता टीम को 25,000 रुपए प्रदान कर पुरस्कृत किया।