निगम उपायुक्त को भाजपा कार्यकर्ताओं ने पोस्ट की चूड़ी

इंदाैर. भाजपा कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को अनोखा विरोध प्रदर्शन करते हुए निगम उपायुक्त को डाक से चूड़ियां पोस्ट की। चूड़ियों के साथ एक गीत भी पोस्ट किया। चूड़ियां पोस्ट करने की वजह बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि खुद को सिंघम कहने वाले उपायुक्त भाजपाइयों और गरीबों पर तो जमकर रौब दिखाते हैं, लेकिन जब पोस्टर हटाने के दौरान कांग्रेसियों ने अभ्रदता करते हुए मारने दौड़े तो उन्हें दबंगता दिखाने के बजाय दूसरों के पीछे छिप गए।

भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष राजेश शिरोडकर ने बताया कि दो दिन पहले स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के जन्मदिन पर रेसीडेंसी क्षेत्र में उनके रिश्तेदारों और समर्थकों ने बैनर, पोस्टर लगाए थे। जिसे उपायुक्त महेंद्र सिंह चौहान निगमकर्मियों के हटाने पहुंचे थे। पाेस्टर हटाने के दौरान मंत्री समर्थकों निगमकर्मियों को लट्‌ठ से पीटा और उपायुक्त महेंद्र सिंह चौहान को भी अपशब्द कहते हुए घेर लिया। सहायक रिमूवल अधिकारी ने उन्हें रोककर उपायुक्त को बचाया। बाद में भीड़ में से एक उपायुक्त को चिल्लाकर बोला कि तू रात को अकेला घूमता है न, अब जिंदा नहीं बचेगा। इस बीच कुछ समर्थकों ने बीच-बचाव कर उपायुक्त को वहां से रवाना किया।

शिरोडकर ने आरोप लगया कि उपायुक्त खुद को निगम का सिंघम समझते हैं, लेकिन मंत्री के जन्मदिन के पोस्टर हटाने के दौरान उनकी हालत देखकर मन व्यथित हो रहा है। जो सिंघम गरीबों पर दादागिरी करते हुए कार्रवाई करते थे और भाजपाइयों पर नियम बताते थे। बियाबानी में तो अतिक्रमण तोड़ने के दौरान जेसीबी के बोनट पर बैठ थे। कार्रवाई के दौरान गरीबों की रोजी-रोटी भी छीनने से पीछे नहीं हटते थे। अब निगमकर्मी के पीछे छुपते हुए और गिड़गिड़ाते हुए नजर आए।

शिरोडकर ने कमलनाथ सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार कलंकनाथ की है। इस सरकार में सभी अधिकाररी तबादला उधोग से परेशान हैं और प्रशासन मंत्री जी के खास व्यक्तियों के सामने सिर झुकाए खड़ा है। उपायुक्त की ऐसी स्थिति को देखते हुए ही हमने सुबह कलेक्टर के पास स्थित पोस्ट आॅफिस से चूड़ियों का बॉक्स और उनके नाम एक गीत स्पीड पोस्ट से उपायुक्त को पाेस्ट किया है।