नौतपा से पहले तापमान ने तोड़े रिकॉर्ड

उज्जैन। शुक्रवार से नोतपा लग रहा है लेकिन इससे पहले ही आसमान से आग बरस रही है। पिछले वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ते हुए दिन का तापमान ४३.८ डिग्री से. तक जा पहुंचा है। वहीं रात भी २९ डिग्री न्यूनतम तापमान के साथ वर्ष की सर्वाधिक उमस भरी रात साबित हुई।
गर्मी ने आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। जहां राजस्थान की ओर से चलने वाली उत्तर पश्चिमी हवा के कारण लू का प्रकोप जारी है। वहीं सूर्य भी जैसे-जैसे कर्क रेखा के निकट पहुंच रहा है वैसे-वैसे तापमान बढ़ता ही जा रहा है। नोतपा-राहिणी नक्षत्र २५ मई शुक्रवार से आरंभ हो रहा है। इससे पहले ही तापमान ४३.८ डिग्री से. के स्तर को पार कर चुका है।

यदि यही हाल रहे तो नोतपे में तापमान ४५ डिग्री के स्तर तक पहुंच सकता है। जीवाजीराव वेधशाला के मौसम प्रेक्षक दीपक गुप्ता के अनुसार मंगलवार जहां दो वर्ष में सर्वाधिक गर्म रहा। वहीं मंगलवार-बुधवार की दरम्यिानी रात भी वर्ष की सबसे उमस भरी रात रही। सूर्य जैसे-जैसे कर्क रेखा के निकट आएगा, वैसे-वैसे गर्मी व उमस बढ़ेगी। राजस्थान की ओर से उत्तर पश्चिमी हवा भी 8 से 12 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से चल रही है। अत: गर्मी का प्रभाव सर्वाधिक है।