पर्यावरण संदेश रैली में दो स्कूली बालिकाएं बेहोश…

उज्जैन। सोमवार सुबह देवास गेट से रूपांतरण सामाजिक संस्था के माध्यम से पर्यावरण जागरूकता रैली निकाली जा रही थी। इसी दौरान दो स्कूली बालिकाएं गिर पड़ी। इन बालिकाओं से सुबह ९ बजे से रैली में शामिल होने के लिए बुला लिया गया था और ११.१५ बजे तक भूखे प्यासे धूप में खड़ा किया गया।
देवासगेट से महाकाल मंदिर तक १४०० बालक बालिकाओं को रैली के लिए रूपांतरण सामाजिक संस्था ने बुलाया था तथा २५ स्कूलों के विद्यार्थी देवासगेट रैली स्थल पर लाए गए थे। सुबह ९ बजे से ही बच्चों को स्कूल से पैदल रैली स्थल तक लाने का सिलसिला शुरू हो गया। सुबह ११.१५ बजे तक रैली में शामिल होने आए बच्चों को भूखे प्यासे ही खड़े रहना पड़ा। इस कारण बच्चों की तबियत बिगडऩे लगी। रैली में शामिल होने आई लाेिट स्कूल की कक्षा ७वीं की छात्रा स्नेहा भदौरिया तथा संस्कार भारती की कक्षा ८वीं की छात्रा कविता पिता रूपसिंह बेहोश होकर गिर पड़ी। तुरंत छात्राओं को प्राथमिक उपचार दिया गया व एम्बूलेंस से घर भैजा गया।

इससे पहले तीन दिन पूर्व दशहरा मैदान के शासकीय सामूहिक योग कार्यक्रम में भी दशहरा मैदान कन्या उ.मा.वि. की ११वीं की छात्रा अनिता गुजराती मैदान पर ही चलते कार्यक्रम में बेहोश हो गई थी। इसके बावजूद भी ऐसे आयोजनों में विधार्थियों को बुलाने तथा भूखे प्यासे लंबे इंतजार का सिलसिला जारी है। दशहरा मैदान पर भी योग कार्यक्रम के लिए बच्चों को भूखे प्यासे सुबह ८.३० बजे से बुला लिया गया था। आज भी यही हुआ। रैली में सुबह ९ बजे बच्चों को बुला लिया।

अब बरतेंगे सतर्कता
रैली में पर्यावरण जागरूकता का संदेश देने के लिए २५ स्कूल के बच्चों को रूपांतरण संस्था ने बुलाया था। वन विभाग इस कार्यक्रम में सहयोग दे रहा है लेकिन बच्चों के बेहोश होने की घटना के बाद हम सतर्कता रखेंगे कि ऐसे आयोजनों में बच्चों को न बुलाया जाए।
– पीएन मिश्रा, वन मंडलाधिकारी उज्जैन