पेट्रोल-डीजल हुआ 2 रुपए सस्ता, सरकार ने घटाई एक्‍साइज ड्यूटी

पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों की वजह से विवादों में घिरने के बाद केंद्र सरकार ने अहम कदम उठाया है. सरकार ने बड़ी राहत देते हुए पेट्रोल और डीजल से बेसिक एक्साइज ड्यूटी घटा दी है, जिसके चलते पेट्रोल और डीजल के दाम दो रुपये प्रति लीटर की दर से कम हो गए है. यह नई दर मंगलवार आधी रात से लागू होंगी. सरकार के ऊपर पेट्रोल और डीजल के दाम कम करने का काफी दबाव था.

ईंधन की कीमतों में पिछले तीन महीने से वृद्धि को देखते हुए यह कदम उठाया गया है. वित्तमंत्रालय ने टि्वटर के जरिये दी जानकारी में कहा, ‘भारत सरकार ने पेट्रोल और डीजल (ब्रांडेड और बिना ब्रांड वाले) पर बेसिक एक्साइज ड्यूटी में दो रुपये प्रति लीटर कटौती की है. यह एक्साइज ड्यूटी में कटौती चार अक्तूबर से प्रभावी हो जाएगी.’ उत्पाद शुल्क में कटौती के बराबर पेट्रोल और डीजल की कीमतें घट जाएंगी.

पिछले तीन महीने में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला, जिसको लेकर सिर्फ विपक्ष ने ही नहीं, बल्कि राजग की सहयोगी शिवसेना ने भी सरकार पर निशाना साधा था. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने तो यहां तक कह दिया था कि भारत से ज्यादा सस्ता पेट्रोल और डीजल पाकिस्तान में बिक रहा है. माना जा रहा है कि पेट्रोल की कीमत में बढ़ोत्तरी के लिए सिर्फ कच्चे तेल की कीमतों में इजाफा जिम्मेदार नहीं है, बल्कि सरकार की तरफ से इस पर लगाया जाने वाला टैक्स भी एक वजह है.

पेट्रोल पर सरकार अभी कुल 21.48 रुपये प्रति लीटर का उत्पाद शुल्क लगाती है, जबकि डीजल के मामले में यह 17.33 रुपये प्रति लीटर है. साल 2014 से अब तक केंद्र सरकार  पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी में 126 फीसदी बढ़ोत्तरी की. वहीं, डीजल पर लगने वाली ड्यूटी में 374 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई. यही वजह है क‍ि कुछ समय तक कच्चे तेल की कीमतें लगातार घटने के बाद भी इसका फायदा आम लोगों को नहीं मिल पा रहा है.