पेपर देने के पहले 12वीं के छात्र ने ब्लेड से हाथ की नस काटी

परिजनों ने कहा… पढ़ाई के लिए हमारा कोई दबाव नहीं

गुरुवार सुबह 7 बजे 12वीं के छात्र ने ब्लेड से हाथ की नस काट ली। मां ने उसे लहूलुहान हालत में देखा और जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। परिजनों का कहना था कि पढ़ाई के लिये हमारा कोई दबाव नहीं था… आज पेपर था लेकिन उसने हाथ की नस काट ली।

प्रिंस पिता कालू निवासी श्रीकृष्ण कॉलोनी 12वीं का निजी स्कूल का छात्र है। उसका आज पेपर था। परीक्षा देने जाने से पहले प्रिंस ने सुबह ब्लेड से हाथ की नस काट ली। हाथ में कई जगह ब्लेड के घाव थे। अधिक खून बहने से वह बेहोश हो गया।

मां लक्ष्मी ने उसे लहुलूहान हालत में देखा। पिता कालू व अन्य परिजनों ने प्रिंस को बेहोशी की हालत में जिला चिकित्सालय में भर्ती करवाया जहां उसका उपचार जारी है।

पिता कालू ने बताया परीक्षा के दौरान प्रिंस डिप्रेशन में था और संभवत: पेपर बिगड़ ना जाए, इस वजह से उसने ऐसा कदम उठाया। हालांकि प्रिंस बेहोश है और उपचार के बाद ही हाथ काटने का कारण बता पाएगा।

परिजन बरतें सावधानी
इन दिनों स्कूल और कॉलेजों की परीक्षाएं चल रही हैं। परिजन बच्चों की परीक्षा व पेपर के बारे में रोज जानकारी लेकर उनका मनोबल बढ़ाएं। यदि किसी विषय का पेपर बिगड़ता है या नम्बर कम आने की बात कहकर बच्चे डिप्रेशन में जाते हैं

तो उन्हें विकल्प भी सुझाएं। परीक्षाओं के दौर में बच्चे परिजनों के दबाव अथवा दूसरे बच्चों से कॉम्पीटिशन के चक्कर में डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं। माता-पिता बच्चों के लगातार संपर्क में रहकर उनकी गतिविधि और मानसिक स्थिति पर नजर रखें।