प्रतिष्ठा महोत्सव… आचार्य जिनमणिप्रभ सूरीश्वर मसा का मंगल प्रवेश

उज्जैन। 18 फरवरी को होने वाले श्री अवंति पाश्र्वनाथ तीर्थ अंजन शलाका प्रतिष्ठा महोत्सव के लिए बुधवार को आचार्य पजिनमणिप्रभ सूरीश्वरजी मसा का मंगल प्रवेश हुआ।

साथ ही महोत्सव के पहले दिन आचार्य सिद्धसेन दिवाकर नगर, अवंति नगर, गौतमशालिभद्र नगर, वाराणसी नगर का उद्घाटन आचार्यश्री के सान्निध्य में हुआ।

अवंति तीर्थ प्रतिष्ठा महोत्सव समिति के संयोजक कुशलराज गोलेछा के अनुसार वरघोड़ा कंठाल चौराहे से शुरू हुआ जो विभिन्न मार्गों से होकर श्री अवंति पाश्र्वनाथ तीर्थ पहुंचा।

यहां आचार्यश्री ने श्री अवंति पाश्र्वनाथ तीर्थ द्वार का उद्घाटन किया। इसके बाद आचार्य सिद्धसेन दिवाकर नगर का शुभारंभ महापौर मीना जोनवाल सहित अन्य नगरों का उद्घाटन लाभार्थियों ने किया।

प्रतिष्ठा प्रचार समिति के रितेश जैन एवं तरुण डागा ने बताया साथ ही पेढ़ी, केसर रूम तथा प्याऊ का उद्घाटन भी हुआ। तत्पश्चात श्री अवंति पाश्र्वनाथ तीर्थ मंदिर दानीगेट पर कुंभ के साथ दीपक एवं ज्वारारोपण स्थापना हुई।

महोत्सव में वेदिका पूजन, चौसठ योगिनी पूजन, षोडश विद्यादेवी पूजन, भैरव पूजन, क्षेत्रपाल पूजन, श्री पाश्र्वनाथ पंच कल्याणक पूजन, नवग्रह पूजन, अष्टमंगल पूजन, लघुसिद्धचक्र पूजन व लघु वीशस्थानक पूजन हुआ।

शाम 7.30 बजे आंगी भक्ति रोशनी (मंदिरजी) में हुई। रात में भक्ति संध्या में संगीतकार आशीष जैन, गायक देवेश जैन, शुभम, अंकित, अदिति कोठारी ने धार्मिक गीतों की प्रस्तुतियां दीं।