प्रयास: प्रशासन करेगा लोकशिक्षण आयुक्त से चर्चा

पारा 41 डिग्री पार, विद्यार्थियों को छुट्टी का इंतजार

उज्जैन। प्रतिदिन तापमान बढ़ते जा रहा है। पालक न चाहते हुए भी बच्चों को स्कूल भेजने पर मजबूर हंै। विद्यार्थियों का भी स्कूल में बैठना मुहाल हो रहा है। ऐसे में सभी छुट्टी चाहते हैं लेकिन शासन इस संबंध में तुरंत कोई निर्णय लेता नहीं दिख रहा।

जिले में नर्सरी से लेकर 12 तक में 3.50 लाख विद्यार्थी अध्यनरत हैं। पिछले कुछ वर्षों से अप्रैल माह में भी स्कूल लग रहे हैं लेकिन तापमान बढऩे पर सरकार छुट्टी घोषित कर देती है। इस बार भी पारा ४१ डिग्री के पार पहुंच गया जिससे विद्यार्थियों की हालत पस्त हो रही है तो परिजन भी परेशान हैं।

इसे देखते हुए प्रशासन लोक शिक्षण आयुक्त से चर्चा का हवाला दे रहा है लेकिन ग्वालियर और रीवा जैसे शहरों में भीषण गर्मी के बाद भी छुट्टी घोषित नहीं किए जाने को देखते हुए इसकी संभावना कम ही बताई जा रही है। याद रहे तापमान बढ़ेने पर प्रदेश में स्कूलों में छुट्टी करने का निर्णय सरकार के आदेश पर लोक शिक्षण आयुक्त को लेना होता है।

छुट्टी कब से शुरू होगी पता नहीं है, लेकिन तापमान बढऩे के कारण सीपीआई से बात करेंगे। वे स्कूलों की छुट्टी का निर्णय लेंगे।
– शशांक मिश्र, कलेक्टर

प्रदेश में कही भी स्कूलों में छुट्टी घोषित नहीं की गई है। गर्मी में बढ़ते तापमान को लेकर अवकाश का निर्णय शासन स्तर पर होना है।
– संजय गोयल, डीईओ