बड़ा हादसा टला: हवा में टकराने से बचे इंडिगो के दो विमान, 328 यात्री थे सवार

नई दिल्ली: इंटरग्लोब एविएशन की एयरलाइन इंडिगो के दो विमान आपस में हवा में टकराने से बच गए. दोनों विमान के बीच की दूरी इतनी कम थी कि अगर टकरा जाते तो विमान में बैठे सभी यात्रियों की जान जा सकती थी. फ्लाइट कुछ सेकंड के अंतर से हवा में टकराने से बच गईं. बताया जा रहा है कि यह घटना 10 जुलाई की है. बंग्लुरु एयरबेस के ऊपर इंडिगो की दोनों फ्लाइट ठीक सामने आ गई थीं. हालांकि, पायलट की सूझबूझ और तुरंत एक्शन के चलते बड़ा हादसा टल गया.

हैदराबाद-कोच्ची की फ्लाइट टकराने से बची
बताया जा रहा है कि 10 जुलाई के दिन बंग्लुरु एयरबेस के ऊपर उड़ान भर रही इंडिगो की कोयंबटूर से हैदराबाद की फ्लाइट 6E 779 और बंग्लुरु से कोच्ची की फ्लाइट 6E 6505 के बीच टक्कर होने से बची. एयरलाइंस के विमान एक-दूसरे के काफी करीब आ गए. सेकेंड भर के फासले पर दोनों विमान थे. इंडिगो का कहना है कि मामले की जानकारी रेगुलेटर को दे दी गई है.

328 पैसेंजर्स की जा सकती थी जान
इंडिगो के मुताबिक, हैदराबाद की फ्लाइट में करीब 162 पैसेंजर थे. वहीं, कोच्ची की फ्लाइट में करीब 166 पैसेंजर्स थें. दोनों विमानों के बीच की दूरी महज 200 फीट की थी. विमान के टकराने से पहले ट्रैफिक कॉलिजन एवॉयडेंस सिस्मट (TCAS) का अलर्म बचने से हादसा टल गया. रिपोर्ट के मुातिबक, एयरक्राफ्ट एक्सिडेंट इन्वेस्टिगेशन बोर्ड (AAIB) ने मामल की जांच शुरू कर दी है.

पहले भी टल चुके हैं हादसे
हवा में विमानों के टकराने की खबरें पहले भी आती रही हैं. इंडिगो का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी इंडिगो के विमान टकराने से बच चुके हैं. यही नहीं, पिछले साल नंवबर में इंडिगो के एक विमान में लैपटॉप फटने से भी अफरा-तफरी मची थी. उससे पहले दिल्ली एयरपोर्ट पर इंडिगो और एयर इंडिया के विमान के बीच टक्कर होने से बची थी. इस दौरान एयर इंडिया का प्लेन में टेकऑफ करने वाला था और इंडिगो का विमान लैंड कर रहा था.