बल, वर्ण व आयु को बढ़ाने के लिए स्वर्णप्राशन करवाना लाभदायक

उज्जैन। चिमनगंज स्थित शासकीय धन्वंतरि आयुर्वेद चिकित्सालय के शिशु एवं बालरोग विभाग में शनिवार को स्वर्णप्राशन के तृतीय चरण में 59 बच्चों को स्वर्णप्राशन करवाया गया। विभाग अध्यक्ष शिशु एवं बालरोग विभाग डॉ. वेदप्रकाश व्यास एवं स्वर्णप्राशन प्रभारी अधिकारी डॉ. गीता जाटव ने आयुर्वेद के ग्रंथों में वर्णित तथ्यों के आधार पर बताया लगातार स्वर्णप्राशन से बच्चों में मेधा, आयु, बल, वर्ण की वृद्धि होती है तथा पाचन शक्ति में सुधार होकर शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य संवर्धन होता है।

इस कार्यकम में चिकित्सालय अधीक्षक डॉ. ओपी शर्मा, आरएमओ डॉ. हेमंत मालवीय, फार्मेसी प्रभारी डॉ. कमलेश धनोतिया, डॉ. निर्मला कुशवाहा एवं डॉ. प्रकाश जोशी का सहयोग रहा। जानकारी प्राचार्य डॉ. सिद्धेश्वर सतुआ ने दी।