मनमोहन सिंह ने राष्ट्रपति से की PM मोदी की शिकायत

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शिकायत की है. उन्होंने कर्नाटक चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भाषा पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह कांग्रेस को धमकाने का काम कर रहे हैं. कांग्रेस की ओर से राष्ट्रपति को लिखे इस पत्र में में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हुबली में दिए गए भाषण पर आपत्ति जताई गई है. चिट्ठी में कहा गया है कि प्रधानमंत्री को किसी के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

पीएम की भाषा पर सवाल उठाते हुए उन्होंने लिखा, राष्ट्रपति पीएम मोदी को सही भाषा बोलने का निर्देश दें. पूर्व प्रधानमंत्री ने लिखा, ये स्वीकार नहीं किया जा सकता कि प्रधानमंत्री इस तरह की भाषा बोले. फिर चाहे वह चुनाव प्रचार के दौरान ही क्यों न हो. वह अपनी ताकत और गरिमा का इस्तेमाल निजी और राजनीतिक ताकत बढ़ाने के लिए करते हैं.

मनमोहन सिंह ने अपने पत्र में लिखा है कि ये सोचा भी नहीं जा सकता कि हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था में प्रधानमंत्री पद पर बैठा व्यक्ति ऐसे धमकाने वाले शब्दों का इस्तेमाल कर सकता है. यह उस देश के प्रधानमंत्री की भाषा नहीं हो सकती, जो 1.3 अरब लोगों की नुमाइंदगी करता है. ये स्वीकार करने वाली भाषा नहीं है. प्रधानमंत्री जिस भाषा में कांग्रेस नेताओं को धमका रहे हैं, उसकी हम सब निंदा करते हैं.

इस खत में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत अन्य बड़े कांग्रेस नेताओं के दस्तखत हैं. इस पत्र में मनमोहन सिंह ने 6 मई की उस सभा का जिक्र किया है, जिसमें प्रधानंत्री ने कहा था, अगर आपने लक्ष्मण रेखा पार की तो आपको परिणाम भुगतना पड़ेगा. गौरतलब है कि कांग्रेस नेताओं द्वारा राष्ट्रपति को भेजा गया ये पत्र कर्नाटक चुनाव परिणाम से एक दिन पहले सामने आया है. मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणाम आएगा.