मुख्यमंत्री का कार्यक्रम… स्कूल की छुट्टी, यात्री हो रहे परेशान

उज्जैन। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जावरा में आयोजित कार्यक्रम में उज्जैन जिले से संबल योजना के लाभांवितों को प्रमाण पत्र दिलाने के लिये सुबह 8 बजे यात्री व स्कूल बसों से जावरा ले जाया गया। इसके लिये आरटीओ ने 200 बसें अधिग्रहित की। बस स्टेण्ड से यात्रियों को बसें नहीं मिलने से उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा तो बच्चों की स्कूल से छुट्टी कर दी गई।

मुख्यमंत्री चौहान जावरा में संबल योजना के तहत विद्युत बिल सरलीकरण योजना के अंतर्गत असंगठित श्रमिकों, बीपीएल कार्डधारी लोगों को प्रमाण पत्र वितरित किये जायेंगे। इस कार्यक्रम में उज्जैन जिले के पात्र लोगों को जावरा ले जाने के लिये गांवों के लाइनमेन, पंचायत सचिवों की प्रशासनिक स्तर पर ड्यूटी लगाई गई है साथ ही लोगों को जावरा ले जाने के लिये आरटीओ ने 200 यात्री व स्कूल बसों को अधिग्रहित किया गया।

इंदौर, देवास, शाजापुर मार्ग पर चलने वाली नियमित यात्री बसों के अधिग्रहित हो जाने के कारण लोगों को जहां आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ा वहीं स्कूल संचालकों न बसें अधिग्रहित होने के कारण बच्चों की छुट्टी घोषित कर दी गई। चिंतामण जवासिया के लाइनमैन सत्यनारायण चौकसे ने बताया संबल योजना के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को मुख्यमंत्री के हाथों प्रमाण पत्र दिलाने के लिये निजी स्कूल की बस में लोगों को लेकर जावरा जा रहे हैं। स्कूल की 25 बसें आरटीओ ने अधिग्रहित की हैं। यात्री बस में पंचायत सचिव जनार्दन सिंह बैस तालोद, कंडारिया, उमरिया के लोगों को लेकर जावरा के लिये रवाना हुए। सचिव बैस ने बताया लाइनमैन रविकांत मिश्रा भी साथ जा रहे हैं।

बसें अधिग्रहित की गई हैं…
जावरा में आयोजित मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में उज्जैन जिले के लोगों को भी बसों के माध्यम से जावरा पहुंचाया गया है। लोगों को ले जाने व लाने के लिये 200 बसें अधिग्रहित की गई हैं।
– संतोष मालवीय, आरटीओ