रिलेशनशिप को लेकर अपने बेस्ट फ्रेंड को भी ना बताएं ये 7 बातें

एक रिश्ता तभी अच्छे से काम कर पाता है और आगे बढ़ता है जब वो दुनिया की नज़र से दूर रहता है। हां, कुछ लोग ऐसे ज़रूर होते हैं जो अपने रिलेशनशिप को लेकर काफी बड़ाई करते हैं। इसके बारे में दूसरों से बातें करने में उन्हें मज़ा आता है लेकिन अगर कुछ चीज़ें आप दोनों के बीच में ही रहे तो बेहतर है।

लड़ाई झगड़े :-

जब हम उदास और दुखी होते हैं तो किसी से अपने दिल की बात करना चाहते हैं। लेकिन अपनी नोकझोंक के बारे में अपने दोस्तों को बताना अच्छा आईडिया नहीं है।

आप दोनों कुछ समय बाद फिर से नॉर्मल हो जायेंगे लेकिन आपके दोस्त इस बात को लंबे समय तक याद रखेंगे। कपल्स के बीच में लड़ाई झगड़े होना आम बात है लेकिन इस मामले में अपने दोस्तों पर भरोसा करना ठीक नहीं है।

अगर ये मुद्दा काफी सीरियस है तो किसी थेरेपिस्ट के पास जाएं ना कि पूरी दुनिया के सामने अपनी ज़िंदगी खुली किताब की तरह रख दें।

पैसों से जुड़ी समस्या :-

सिर्फ आपकी वजह से ही आपके दोस्त आपके पार्टनर की इज़्ज़त कर सकते हैं। आप अपने पार्टनर की पीठ पीछे जितनी बुराइयां करेंगे, भविष्य में आपको उतनी ही मुश्किलें आएंगी।

अगर आपका पार्टनर आर्थिक समस्या झेल रहा है तो इस बारे में जाकर दोस्तों को बोलने की कोई ज़रूरत नहीं है।

ये आपकी शख्सियत को भी खराब करेगा और आपकी इमेज मतलबी इंसान की बना देगा। अगर ऐसा कोई भी मसला है तो उसे अपने पार्टनर के साथ डिस्कस करें, पूरी दुनिया से नहीं।

पार्टनर की पर्सनल प्रॉब्लम्स :-

अपने दोस्तों से साथ पॉजिटिव रिस्पांस की उम्मीद में कभी भी अपने पार्टनर की पर्सनल परेशानियों की चर्चा ना करें।

अगर आपके पार्टनर के परिवार में कुछ बुरा हुआ है तो उस बात को अपने तक रखें क्योंकि उन्होंने आप पर भरोसा करके वो जानकारी आपके साथ साझा की है। अगर उन्हें कहीं से ये खबर मिलती है कि आपने ये सूचना किसी से बांटी है तो वो फिर कभी आप पर भरोसा नहीं करेंगे।

पार्टनर का पूर्व रिलेशनशिप :-

अपने दोस्तों के साथ अपने पार्टनर के पुराने रिलेशनशिप के बारे में बात ना करें, ये सिर्फ नकारात्मकता को बढ़ावा देगा। उन्हें आप पर विश्वास है तभी ये सारी बातें आपको पता चल पायी।

अपने दोस्तों के साथ इसकी गॉसिपिंग करके उनका भरोसा ना तोड़ें। अपने पार्टनर के ट्रस्ट को बनाए रखना सिर्फ आपके ही हाथ में है।

शिकायतें :-

अगर आपका रिलेशनशिप आपकी उम्मीद के मुताबिक नहीं चल रहा है तो उसकी शिकायत लेकर अपने दोस्तों के पास ना जाएं।

अगर आप हर छोटी छोटी बात के लिए ऐसा करेंगे तो आपको परेशान देखकर आपके दोस्त अपने पार्टनर को छोड़ने की सलाह दे देंगे। आप जो भी परेशानी झेल रहे हैं उसके बारे में अपने पार्टनर से डिस्कस करें।

पार्टनर की तुलना करना :-

अगर आप ये नहीं चाहते कि आपके दोस्त आपके पार्टनर के बारे में गलत और बुरा सोचें तो उनके सामने अपने पार्टनर की किसी से तुलना ना करें।

सभी की ज़िंदगी में उतर चढ़ाव आते रहते हैं लेकिन इसका ये मतलब नहीं होता है कि आप अपने दोस्तों के पास जाकर अपने एक्स की तारीफ और मौजूदा पार्टनर की बुराई करें। इस तरह की बातें छिपती नहीं है और सोचिये जब आपके पार्टनर को पता चलेगा कि आप उनके बारे में इतना बुरा सोचते हैं तो उन्हें कितना दुःख होगा।

इंटिमेट डिटेल्स :-

बेडरूम में जो भी हुआ, उसकी बातें बंद कमरे तक ही रहनी चाहिए। अपनी इंटिमेसी के बारे में कभी भी दोस्तों से चर्चा नहीं करनी चाहिए।

कोई भी ये बात जानकर निराश होगा कि आप उनकी परफॉरमेंस के बारे में बाहर जाकर बातें करते हैं। अगर अपने पार्टनर के लिए दोस्तों की तरफ से सम्मान चाहते हैं तो इस तरह की बातों को छिपा कर ही रखें।