‘लवरात्रि’ के बाद ‘लवयात्री’ पर भी एतराज, फिर बढ़ी सलमान खान की मुश्किल

सलमान खान के जीजा आयुष शर्मा की अपकमिंग डेब्यू फिल्म ‘लवरात्रि का नाम बदलकर ‘लवयात्री’ किए जाने के एक दिन बाद, एक हिन्दू संगठन ने गुजरात उच्च न्यायालय से बुधवार को कहा कि उन्हें ये नया नाम मंजूर नहीं है .शहर के संगठन ‘सनातन फाउंडेशन ने एक जनहित याचिका दायर करके अनुरोध किया कि या तो इस फिल्म का टाइटल और फिल्म की कुछ सामग्री बदली जाए या इसे ”हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आधार पर प्रतिबंधित किया जाए।

इसलिए मंजूर नहीं नाम…

संगठन ने अदालत से कहा कि फिल्म का नाम इसलिए मंजूर नहीं है क्योंकि यह हिन्दुओं के त्योहार ‘नवरात्रि से मिलता जुलता है। जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान, प्रतिवादी निर्माता के वकील ने अदालत में कहा कि याचिका ‘समय पूर्व दायर की गई है क्योंकि फिल्म को अब तक सेंसर बोर्ड से प्रमाणपत्र नहीं मिला है।

कोर्ट ने पूछा ये सवाल…

मुख्य न्यायाधीश आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति वी एम पंचोली की पीठ ने फिल्म के निर्माता के वकील को फिल्म की सामग्री के संबंध में निर्देश लेने का निर्देश दिया और पूछा कि सेंसर बोर्ड से प्रमाणपत्र मिलने से पहले इसके प्रोमो जारी कैसे कर दिये गये।

बता दें कि इस फिल्म ये सलमान खान के बहनोई और अर्पिता खान के हसबैंड आयुष शर्मा बॉलीवुड में शुरुआत करने जा रहे हैं। उनके साथ एक्ट्रेस वरीना हुसैन नजर आएंगी। फिल्म की कहानी नवरात्रि की पृष्ठभूमि पर आधारित है।