शाम छह बजे से पहले खा लेना चाहिए खाना

देर से खाने वालों में बढ़ता जाता है दिल की बीमारी का खतरा

लंदन। दिल की बीमारियों का जोखिम सिर्फ इस पर निर्भर नहीं होता कि आप क्या खाते हैं, बल्कि खाने का समय भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
एक शोध के अनुसार जो महिलाएं शाम को छह बजे के बाद रात का खाना खाती हैं, उनमें दिल की बीमारियां होने का खतरा ज्यादा होता है। एक हालिया शोध में यह खुलासा हुआ है। जो लोग देर से खाना खाते हैं उनमें उच्च रक्तचाप, उच्च बीएमआई और रक्त शर्करा पर खराब नियंत्रण होता है।

कोलंबिया यूनिवर्सिटी में हुए शोध में 112 महिलाओं पर अध्ययन किया गया। इस शोध के अनुसार शाम को जल्दी खाने से दिल की बीमारियों का खतरा कम किया जा सकता है। दिल के स्वास्थ्य को मापने के लिए अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन लाइफ ने सात कारकों का इस्तेमाल किया। इनमें धूम्रपान नहीं करना, सक्रिय रहना, अच्छा आहार लेना, दुबले रहना, कम कोलेस्ट्रोल, कम रक्तचाप और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखना आदि शामिल हैं। शोधों में हमेशा यह बताया गया है कि जो इन कारकों को ध्यान में रखकर स्वस्थ जीवन जीते हैं उनमें दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है।

ऐसे किया शोध : सभी प्रतिभागियों की उम्र औसतन 33 साल थी। सभी को शोध की शुरुआत में हेल्थ स्कोर दिया गया। उन्होंने फूड डायरी में दर्ज किया कि उन्होंने क्या खाया, कितना खाया और कब खाया। ऐसा उन्होंने अध्ययन शुरू होने के एक हफ्ते के अंदर और शोध खत्म होने से एक हफ्ते पहले किया। शोध के अनुसार शाम को छह बजे के बाद खाना खाने से दिल का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता। जिन महिलाओं ने इस समय के बाद ज्यादा कैलोरी का सेवन किया उनका रक्तचाप ज्यादा था। इन महिलाओं का वजन ज्यादा था और रक्त शर्करा को ठीक तरह से नियंत्रित नहीं कर पा रही थी। यह दोनों ही दिल की बीमारियों का सबसे बड़ा कारण हैं।

112 महिलाओं पर कोलंबिया यूनिवर्सिटी में अध्ययन किया गया…
33 साल थी शोध में शामिल प्रतिभागियों की औसतन उम्र…

रात में खाना नुकसानदायक
पूर्व के शोधों में दर्शाया गया है जो पुरुष आधी रात को चिप्स खाते हैं, उनमें दिल की बीमारियों का खतरा 55 फीसदी ज्यादा होता है। विशेषज्ञों का मानना है कि देर से खाने से स्ट्रेस हार्मोन का स्राव होता है जबकि उस समय शरीर को आराम की मुद्रा में चले जाना चाहिए।