सर्दियों में गुड़ खाने से होते हैं गजब के फायदे

गुड़ सेहत के लिए फायदेमंद है, लेकिन आधुनिक खानपान में इसके लिए ज्यादा जगह नहीं है। ऐसे में संभव नहीं कि सालभर इसे अपनी खुराक का हिस्सा बनाया जा सके, लेकिन सर्दी के मौसम में यह और भी गुणकारी हो जाता है।

गुड़ न केवल बीमारियों, बल्कि कई तरह के इफेक्शन्स से भी बचाता है। गले में खराश है तो गुड़ और अदरक को मिलकर खाएं। आयुर्वेद के अनुसार, गुड़ खून की कमी होने से बचाता है। यह किसी एंटीबायोटिक की तरह काम करता है। इसकी तासीर गर्म है। जानिए इसके अन्य फायदे –

सर्दी में मिलेगी राहत- दिन में एक बार शक्कर के स्थान पर गुड़ की चाय पीएं। इससे शरीर में गर्मी बनी रहेगी। यदि सर्दी लगातार बनी हुई है तो गुड़, अदरक और तुलसी के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीकर सो जाएं, सुबह राहत महसूस होगी। यह गले और फेफड़ों के इनफेक्शन से बचाता है। साथ ही जिन लोगों में नाक की एलर्जी होती है, उनके लिए गुड़ किसी दवा से कम नहीं है।

खांसी को रखता है दूर- इस मौसम में गुड़ और तिल से बनी कई चीजें मिलती हैं। इन दोनों की प्रकृति गर्म है। गुड़ खाने के बाद ऊपर से दूध पी लिया जाए तो सर्दी-जुकाम और खांसी में राहत मिलती है। यह शरीर से हानिकारक टॉक्सिन्स को बाहर कर देता है।

इससे त्वचा स्वस्थ्य रहती है। चेहरे पर निखार आता है और फोड़े-फूंसी नहीं होते हैं। गुड़ में फास्फोरस होता है, जो हड़्डियों की मजबूती के लिए जरूरी है। इससे ठंड में होने वाले जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। साथ ही मांसपेशियां भी मजबूत रहती हैं। गुड़ से आयरन की कमी पूरी होती है। यह मैग्नीशियम का भी बेहतरीन स्रोत है।

पाचन तंत्र को बनाता है मजबूत- गुड़ पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। इसके नियमित सेवन से गैस, अपच और एसिडिटी जैसी बीमारियों को दूर किया जा सकता है। यह आंखों की रोशनी सुधारता है। सर्दी के मौसम का असर ब्लड प्रेशर पर पड़ता है। यदि इन दिनों में नियमित रूप से गुड़ का सेवन किया जाए तो ब्लड प्रेशर को सामान्य रखा जा सकता है। यदि किसी को भूख न लगने की बीमारी है तो गुड़ में सेंधा और काला नमक मिलाकर खाएं।

पीरियड्स के दर्द में राहत- महिलाओं के लिए गुड़ खासतौर पर फायदेमंद है। रोज थोड़ी मात्रा में गुड़ खाया जाए तो इससे पीरियड्स के दौरान पेट दर्द और सिर दर्द से निजात मिलती है। जिन लोगों  को अस्थमा की बीमारी है, वे गुड़ खाएं, राहत मिलेगी। ठंड के कारण कान में दर्द हो रहा है तो गुड़ में थोड़ा घी डालकर खाएं, तत्काल फायदा होगा।

गुड़ का सेवन करते समय बरतें ये सावधानियां- गुड़ बहुत गुणकारी है, लेकिन इसका सेवन करते समय कुछ सावधानियां भी जरूरी है। जैसे ज्यादा गुड़ खाने से वजन बढ़ सकता है। 100 ग्राम गुड़ में 385 कैलोरी होती है। इसलिए उतना ही सेवन करें, जितना पचा सकें।

गुड़ खाने से जाहिर तौर पर शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ती है।इसलिए डायबिटीज के मरीज सावधान रहें। यदि गुड़ खराब है तो इसके सेवन से बच्चों के पेट में कीड़े हो सकते हैं। कई लोगों को गुड़ के कारण पेट में गर्मी हो जाती है और दस्त लग जाते हैं। ऐसे लोग संभलकर ही इसका सेवन करें।