सर्दियों में स्किन प्रॉबल्म से बचाएंगे ये 5 आसान घरेलू नुस्खे

भारत देश के सभी राज्यों में कड़ाके की ठंड बरकरार है। कुछ शहरों में तो तापमान शून्य से भी नीचे गिर चुका है। इस चिलचिलाती ठंड में जहां स्वास्थय का ध्यान रखना जरुरी है, वहीं त्वचा की एक्सट्रा केयर भी लाजमी है। शुष्क हवा के चलते त्वचा की नमी दिनों दिन कम होती जा रही है, जिससे त्वचा में खिंचाव और रुखापन आ जाता है। कुछ महिलाओं को इस दौरान स्किन इचिंग और रैशेज जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है। तो चलिए आज हम बात करेंगे सर्दियों के दौरान त्वचा से जुड़ी समस्याओं को फेस करने के आसान तरीके…

मॉइस्चराइजरलगातार बढ़ रही ठंड के चलते त्वचा अपनी नमी खोने लगती है। ऐसे में नहाने के तुरंत बाद हाथ और पैरों पर मॉइस्चराइजर जरुर लगाएं। ऐसा करने से त्वचा का pH लेवल ठीक रहेगा, जिससे आपकी स्किन ड्राई नहीं होगी। कोशिश करें मॉइस्चराइजर विटामिन C और E  युक्त हो। आप चाहें तो घर पर भी मॉइस्चराइजर तैयार कर सकते हैं। मॉइस्चराइर बनाने के लिए ग्लिसरीन और गुलाब जल का इस्तेमाल करें। इसे आप अपने होंठों पर भी जरुर लगाएं। इस नेचुरल मॉइस्चराइज का उपयोग रोजाना रात को सोने से पहले करें।

अत्यधिक गर्म पानी- माना ठंड बहुत ज्यादा है, मगर अधिक गर्म पानी से स्नान करने से आपकी त्वचा ड्राई होती है। साथ ही आपको इचिंग यानि खारिश की भी प्रॉबल्म हो सकती है। ऐसे में ज्यादा गर्म पानी की जगह हल्के गुनगुने पानी के साथ ही स्नान करें। वैसे भी ज्यादा गर्म पानी के साथ स्नान करने के बाद ठंड ज्यादा महसूस होती है।

सर्दियों में खानपान- त्वचा की ऊपरी देखभाल के साथ-साथ अपने खान पान पर भी जरुर ध्यान दें। विटामिन्स और मिनरल्स युक्त डाइट आपकी त्वचा को नेचुरल शाइन और ग्लोइंग बनाने में मदद करती है। फैटी एसिड युक्त खानपान जैसे  चिया सीड्स, अलसी के बीज, अखरोट, गेहूं के अंकुर, साग, बादाम,बटर, ऑलिव्स, एवोकाडो और बादाम जैसी चीजें आपकी सेहत और त्वचा के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। इनके सेवन से आपकी त्वचा हाइड्रेट रहती है, जिससे आप नेचुरली ग्लो करते हैं।

सूरज की किरणें- सर्दियों में धूप सेकने के लिए हर कोई तैयार रहता है। मगर 2 घंटे से ज्यादा धूप में बैठने से आपकी त्वचा का रंग गहरा होने लगता है। धुप में बैठते वक्त हमेशा सूरज की तरफ अपनी पीठ रखें। धूप में बैठकर संतरे, गाजर, शकरकंद और बेरीज जैसी एंटी-ऑक्सीडेंट फूड्स का सेवन जरुर करें। ऐसा करने से आपकी  क्षतिग्रस्त हुई कोशिकाओं को एक नई जान मिलेगी। इनके नियमित सेवन से त्वचा में पिग्मेंटेशन या मुंहासों, दाग-धब्बों और झुर्रियों में कमी आती है।

एक्सट्रा केयर- इन सबके अलावा पेट्रोलियम जेली,नारियल तेल और एलोवेरा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। कई महिलाओं को बढ़ती सर्दी में पैरों का फटना या फिर लाल होना जैसी परेशानियां आती हैं। ऐसे में रोज रात सोने से पहले यदि आप अपने पैरों पर पेट्रोलियम जेल और नारियल के तेल के साथ मसाज करते हैं तो आपको काफी लाभ मिलेगा। मालिश करने के बाद पैरों में जुराबें डालना न भूलें। अगर रात को जुराबे डालकर नहीं सो सकते तो 1 घंटे तक इन्हें उतार दें।