सूरज की रोशनी न मिलने से दिल को पहुंच सकता है नुकसान

विटामिन डी3 का सेवन हड्डियों से जुड़ा हुआ है। हड्डियों के इलाज में इस्तेमाल की गई इसकी ज्यादा मात्रा दिल से जुड़ी प्रणाली के लिए फायदेमंद हो सकती है।

यदि आप दिल के रोगी हैं तो विटामिन डी3 के साथ इलाज आपके दिल के लिए लाभकारी हो सकता है। विटामिन डी3 आपके शरीर में प्राकृतिक रूप से सूर्य की रोशनी में बनता है।

उच्च रक्तचाप, वसा का जमा होना, धमनी की दीवार में कोलेस्ट्रॉल और मधुमेह सहित कई बीमारियों से आपके दिल को नुकसान पहुंच सकता है और इससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ सकता है।

शोध में कहा गया है कि हालांकि, विटामिन डी3 का सेवन हड्डियों से जुड़ा हुआ है। हड्डियों के इलाज में इस्तेमाल की गई इसकी ज्यादा मात्रा दिल से जुड़ी प्रणाली के लिए फायदेमंद हो सकती है।

ओहियो विश्वविद्यालय के एक स्नातक छात्र टेड्यूज मलिंस्की ने कहा, ‘आम तौर पर विटामिन डी3 हड्डियों के साथ जुड़ा हुआ है। हालांकि, हाल के सालों में चिकित्सकीय जांच में पता चला है कि दिल के दौरे वाले मरीजों में डी3 की कमी रही है। इसका मतलब यह नहीं है कि डी3 की कमी की वजह से दिल का दौरा पड़ता है, लेकिन यह दिल के दौरे का जोखिम बढ़ा देता है।’