सोशल मीडिया से प्‍यार और रिलेशनशिप में पैदा हो सकती हैं कपल्‍स के बीच दूरियां

सोशल मीडिया के प्रति बढ़ता क्रेज अब रिश्तों को बदल रहा है और उनमें दरार पैदा कर रहा है। फेसबुक, व्हाट्सऐप, ट्विटर और इंस्टाग्राम समेत कई ऐसी साइटों का इस्तेमाल करने वाले लोगों की तादाद लगातार बढ़ रही है। आज हर कोई सोशल मीडिया की दुनिया में इतना मदमस्‍त हो चुका है कि अब इसका असर उनके रिश्‍तों में साफ दिखने लगा है।

पार्टनर की बात हो या फिर घर-परिवार के लोगों की, अब लोग रियल लाइफ से ज्‍यादा समय सोशल मीडिया को देते हैं। सोशल मीडिया पर व्‍यस्‍त रहते हुए, किसी को किसी से बात करने का समय नहीं है। ऐसे में पार्टनर साथ भी है तो लोग अपनी ऑनलाइन दुनिया में मग्‍न रहते हैं।

यदि परिवार के साथ भी बैठे हैं तो सोशल मीडिया में बिंदास मस्‍त रहते हैं। क्‍या आपने कभी सोचा है कि सोशल मीडिया की तरफ आपका बढ़ता रुझान आपके पार्टनर व करीबी रिश्‍तों के लिए कितना घातक हो सकता है।

सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वालों में किशोरों से बुजुर्गों तक हर उम्र के लोग शामिल हैं। इस ऑनलाइन दुनिया का सीधा असर आपके पार्टनर और आपके रिलेशनशिप पर पड़ रहा है। सुनने में आपको अटपटा जरूर लग सकता है लेकिन हाल में हुई एक रिसर्च कुछ ऐसा ही दावा करती है।

सोशल मीडिया के दुष्‍प्रभाव

प्लस वन में प्रकाशित रिर्पोट के मुताबिक, अगर आप सोशल मीडिया पर जरूरत से ज्यादा समय दे रहे हैं तो ऐसा करने से आपके रिश्ते पर गलत असर पड़ रहा है। बता दें, इस स्टडी को कार्नेगी मेलोन यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ कनसास के शोधकर्ताओं ने पूरा किया है।

शोधकर्ताओं ने 5 अध्‍ययनों का एक साथ अध्यन करते हुए इस रिर्पोट को तैयार किया है। इस रिर्पोट में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि सोशल मीडिया पर अपने रिश्तों को ज्यादा शेयर करने से भी आपकी रिलेशनशिप में दरार व समस्याएं आ रही हैं या आ सकती हैं।

स्टडी में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर खुद के बारे में या अपनी व्यक्तिगत जानकारी अधिक बार साझा करने से आपके पार्टनर के मन में ये धारणा बन सकती है कि आपकी लाइफ में उनका खासा महत्व नहीं है। इसकी वजह से आपका पार्टनर खुद को अकेला महसूस करने लगता है और यही एक बड़ा कारण है जिसके कारण दोनों के बीच दूरिया बढ़ने लगती हैं।

कैसे बनाएं तालमेल 

आपको बता दें, इस समस्‍या का समाधान भी इस अध्‍ययन में बताया गया है। इस अध्‍ययन के शोधकर्ता ओमरी गिलैथ कहते हैं कि अगर आप सोशल मीडिया पर अपनी व्‍यक्तिगत जानकारी की जगह अपने रिश्‍तों के बारे में लिखते समय, अपनी उस पोस्‍ट का हिस्‍सा अपने पार्टनर को भी बनाएंगे तो ऐसा करने से आपके रिश्‍तों में कड़वाहट कम हो सकती है।

यही नहीं इससे आपके पार्टनर के बीच दूरियां कम होने के साथ-साथ आप एक-दूसरे के करीब भी आ सकते हैं। जैसे आप अपने पार्टनर के साथ रिलेशनशिप स्‍टेटस को सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं, अगर हो सकता है तो पार्टनर के साथ अपनी कोई फोटो आप शेयर कर सकते हैं, टैग कर सकते हैं, इससे आपके रिश्‍तों में मिठास आएगी और प्‍यार बढ़ेगा।

जानकारी के लिए बता दें, कि इससे पहले जो एक अध्‍ययन किया गया है, उसमें कहा गया था कि व्यक्तिगत जानकारी साझा करने से आपकी ऑफलाइन रिलेशनशिप पर सकारात्मक असर पड़ता है। हालांकि इस नई स्टडी में पहली बार सोशल मीडिया की वजह से रिश्तों पर पड़ रहे प्रभाव के बारे में अध्यन किया गया है।

हर चीज की तरह सोशल मीडिया के भी दो पहलू हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि यह लोगों पर निर्भर है कि वह इसका इस्तेमाल कैसे, किस लिए और कितनी देर करते हैं। किसी भी चीज की लत अच्छी नहीं है।

उदाहरण के तौर पर ‘कोलकाता में एक व्यक्ति ने महज इस आधार पर पत्नी की हत्या कर दी, कि वह सोशल नेटवर्किंग साइटों पर ज्यादा वक्त गुजारती थी और इस वजह से पति की ओर ध्यान नहीं दे पाती थी।

दिल्ली हाईकोर्ट की जज हिमा कोहली ने हाल में कहा था कि सोशल मीडिया के जमाने में निजी डाटा की कोई गोपनीयता नहीं रहने की वजह से शादी नाम का खूबसूरत बंधन खतरे में पड़ रहा है। उनका कहना था कि सोशल मीडिया की व्यस्तता की वजह से हमसफर के लिए परंपरागत सांस्कृतिक मूल्यों और सम्मान में लगातार कमी आ रही है।

तो अगर आप भी साथी के साथ अपने रिश्ते को खूबसूरत बनाना चाहते हैं, तो ऐसे में सोच-समझ कर रिश्तों के साथ तालमेल बिठा कर सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना ही बेहतर है। तो सोशल मीडिया पर पार्टनर के साथ फोटो शेयर करें, अपनी रिलेशनशिप के बारे में अच्छी बातें लिखें और एक हेल्‍दी रिलेशनशिप बनाएं।