हम बिजली लेकर दौड़ रहे हैं, वो अविश्वास का कागज लेकर दौड़ रहे हैं: PM मोदी

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक हफ्ते में दूसरी बार उत्तरप्रदेश पहुंचे। शनिवार को शाहजहांपुर में ‘किसान कल्याण रैली’ में उन्होंने बिना नाम लिए राजीव गांधी और राहुल गांधी पर तंज कसा। मोदी ने कहा कि एक प्रधानमंत्री ने कहा था कि योजनाओं के लिए दिए जाने वाले एक रुपए में से 15 पैसे ही लोगों तक पहुुंचते हैं। ये कौन सा पंजा था जो रुपए को घीस रहा था? आज जो घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं, उनके पास तब लोगों के लिए सोचने का वक्त नहीं था।

मोदी ने कहा, ”जितने दल मिलते जाएंगे, दलदल बनेगा। जितना ज्यादा दलदल होता है, उतना ज्यादा कमल खिलता है। चाहे साइकल हो या हाथी, किसी को भी बना लो साथी, स्वांग के इस स्वार्थ को देश समझ चुका है। आपको पता चल गया होगा कि वे कुर्सी के लिए कैसे दौड़ रहे हैं? पीएम की कुर्सी के अलावा उन्हें कुछ नहीं दिखता। उन्हें न किसान दिखता है, न जवान दिखता है।’’

मोदी कुछ नहीं, ताकत सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों की: मोदी ने कहा, ‘‘क्या मैंने कोई गलत काम किया है? क्या मैं गलत रास्ते पर चल रहा हूं? मेरा गुनाह यही है कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं, मैं परिवारवाद के खिलाफ लड़ रहा हूं। कुछ दल कहते हैं, उन्हें मोदी पर विश्वास नहीं है। हम उन्हें समझाते रहे ये कि खेल खेलना ठीक नहीं। जनता से उलझना ठीक नहीं है। मोदी कुछ नहीं है। ये ताकत सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों की है। ”