CAA पर अमित शाह बोले – ‘सभी विपक्षी पार्टियां साथ आ जाएं फिर भी वापस नहीं होगा नागरिकता कानून’

जोधपुर। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देशभर में विपक्षी पार्टियां विरोध प्रदर्शन कर रही है। वहीं अब भाजपा ने भी इस एक्ट के समर्थन में रैलियां करना शुरू कर दी हैं। भाजपा द्वारा की जा रही रैलियों का मकसद इस कानून को लेकर लोगों में फैलाई जा रही गलतफहमी को दूर करना है। इसी कड़ी में गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान में CAA के समर्थन में आज रैली की। CAA को लागू करने को पीएम मोदी का साहसिक कदम बताते हुए शाह ने कहा कि इससे पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान से आकर बसे गैरमुस्लिमों को बड़ी राहत मिलेगी।

शाह ने रैली के दौरान कहा कि ‘देश की सभी विपक्षी पार्टियां भी अगर एक साथ CAA के विरोध में आ जाएं फिर भी भाजपा अपने द्वारा उठाए गए इस कदम से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी।’ उन्होंने यह भी कहा कि विपक्ष को चाहे जितना भी इस एक्ट को लेकर भ्रम फैलाना हो वह फैलाए।समर्थन रैली के दौरान आयोजित सभा में अमित शाह कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर भी हमलावर हुए। उन्होंने कहा ‘राहुल बाबा कानून पढ़ा है, तो कहीं पर भी चर्चा करने के लिए आ जाओ। नहीं पढ़ा है तो मैं इटालियन में भी इसका अनुवाद करके आपको भेज देता हूं, इसको पढ़ लीजिए।’

बता दें कि CAA के तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से धार्मिक आधार पर प्रताड़ित किए गए गैरमुस्लिमों को ही भारत की नागरिकता देने का प्रावधान किया गया है। इसका विरोध किया जा रहा है। हालांकि सरकार की ओर से कई बार सफाई दी जा चुकी है कि इससे भारत में रहने वाले किसी भी नागरिक पर प्रभाव नहीं पड़ेगा।