October Month Festivals List: इसी महीने हैं दशहरा, दिवाली, करवा चौथ, भाईदूज, छठ पर्व, नोट कर लीजिए ये तारीखें

अक्टूबर का महीना शुरू हो चुका है। यह तीज-त्योहारों से भरपूर महीना है। इन 31 दिनों में लगभग 20 बड़े तीज-त्योहार आएंगे। इनमें सबसे अहम दशहरा और दिवाली शामिल हैं।

यहां जानिए प्रमुख त्योहारों की तारीख –

नवरात्र: 29 सितंबर से शुरू हुए नवरात्र 7 अक्टूबर तक चलेंगे।

महाअष्टमी: 6 अक्टूबर (रविवार) को महाअष्टमी मनाई जाएगी। हालांकि पंचांग के अनुसार, 5 अक्टूबर (शनिवार) को सुबह 10 बजे के बाद अष्टमी तिथि लग जाएगा और 6 अक्टूबर को सुबह 11 बजे तक रहेगी, लेकिन महाअष्टमी की 6 अक्टूबर को ही की जाएगी।

महानवमी: 7 अक्टूबर (सोमवार) को महानवमी रहेगी। तिथियों की घट-बढ़ के कारण 6 अक्टूबर को सुबह 11 बजे बाद ही महानवमी लग जाएगी।

दशहरा: 8 अक्टूबर (मंगलवार) को बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक दशहरा मनाया जाएगा। 7 अक्टूबर (सोमवार) को दोपहर 12 बजे के बाद दशमी तिथि लग जाएगी और 8 अक्टूबर (मंगलवार) को दोपहर 3 बजे तक रहेगी। इसलिए दशहरा पर्व मनाया जाएगा।

शरद पूर्णिमा: 13 अक्टूबर (रविवार) को शरद पूर्णिमा रहेगी। इसी दिन महर्षी वाल्मीकि जयंती और मीरबाई जयंती भी मनाई जाएगी।

कार्तिक महीना: 14 अक्टूबर (सोमवार) यानी शरद पूर्णिमा के अगले दिन से कार्तिक महीना शुरू हो जाएगा। धार्मिक लिहाज से इसका बड़ा महत्व है।

करवा चौथ : 17 अक्टूबर (गुरुवार) को करवा चौथ रहेगी। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए उपवास रखती हैं।

धनतेरस: 25 अक्टूबर (शुक्रवार) को धनतेरस के साथ दीप पर्व की शुरुआत होगी। मान्यता है कि इस दिन भगवान धन्वंतरि प्रकट हुए थे।

रूप चतुर्दशी: 26 अक्टूबर (शनिवार) को रूप चतुर्दशी मनाई जाेगी। पंचांग के अनुसार, कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को रूप चतुर्दशी आती है। इस दिन सौंदर्य रूप श्रीकृष्ण की पूजा होती है। इसे नरक चतुर्दशी भी कहा जाता है।

दिवाली: 27 अक्टूबर (रविवार) दीपपर्व मनाया जाएगा। घर-घर सजावट होगी और लक्ष्मीजी की पूजा की जाएगी।

गाेवर्धन पूजा: 28 अक्टूबर (सोमवार) को गोवर्धन पूजा होगी। लोग इसे अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं।

भाईदूज: 29 अक्टूबर (मंगलवार) को बहन-भाई के प्रेम का प्रतीक भाईदूज मनाया जाएगा। इसी दिन यम द्वितिया भी मनाई जाएगी।

छठ पर्व: 31 अक्टूबर (गुरुवार) को नहाय खाय के साथ छठ पर्व की शुरुआत होगी।