Thursday, June 30, 2022
Homeइंदौरइंदौर : MPPSC के ऑफिस के बाहर अभ्यर्थियों ने किया अनोखा विरोध...

इंदौर : MPPSC के ऑफिस के बाहर अभ्यर्थियों ने किया अनोखा विरोध प्रदर्शन

मप्र लोकसेवा आयोग (पीएससी) के बाहर राज्यसेवा परीक्षा के अभ्यर्थियों ने अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। उम्मीदवार कटोरा और किताब लेकर धरने पर बैठे और सांकेतिक उपवास भी किया। प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों के 100 से ज्यादा विद्यार्थी विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। उम्मीदवार मप्र लोकसेवा आयोग पर भ्रमित करने और परीक्षा व परिणाम में देरी के आरोप लगा रहे हैं।

पीएससी मुख्यालय के बाहर दो घंटे तक विरोध प्रदर्शन का सिलसिला चला। उम्मीदवारों ने 10 सूत्रीय ज्ञापन पीएससी सचिव के नाम सौंपा।विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे उम्मीदवार राज्यसेवा मुख्य परीक्षा 2019 का रिजल्ट नहीं आने से निराश हैं। साथ ही राज्यसेेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 के नतीजे की देरी भी उन्हेें परेशान कर रही है। अभ्यर्थियों ने कहा कि राज्यसेवा मुख्य परीक्षा 2019 के रिजल्ट को लेकर आयोग ने पहले मीडिया में बयान दिया था कि मूल्यांकन नहीं होने के कारण रिजल्ट नहीं आया है। जबकि सीएम हेल्पलाइन पर उम्मीदवारों की शिकायत के जवाब में पीएससी ने लिखा कि आरक्षण पर कोर्ट में लंबित मामले के कारण रिजल्ट रुका हुआ है।

दो साल से परीक्षा लंबित होने से उम्मीदवार परेशान है आयोग के जवाब से भ्रमित भी हो रहे हैं। इसी तरह राज्यसेवा 2020 की मुख्य परीक्षा नवंबर में होना है लेकिन अब तक प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट ही जारी नहीं किया। सिर्फ अंक जारी कर दिए गए हैं। ऐसे में अब नवंबर में यदि मुख्य परीक्षा होती है तो उम्मीदवारों के पास तैयारी का समय ही नहीं बचेगा। कोविड और कोर्ट केस के कारण कई उम्मीदवार उम्र सीमा के दायरे में फंस कर प्रतिस्पर्धा से बाहर हो रहे है। ऐसे में आयुसीमा में छूट भी दी जाना चाहिए।

उम्मीदवारों ने मांग रखी कि राज्यसेवा परीक्षा 2021 का विज्ञापन जल्द जारी किया जाए। लंबित परिणामों पर शासन को भेजे गए और मिले जवाबों को सार्वजनिक किया जाए। अभ्यर्थियों ने ज्ञापन सौंपकर परीक्षाओं में पद बढ़ाने की मांग भी रखी। उम्मीदवारों ने कहा कि साक्षात्कार के अंक कम किए जाना चाहिए। मुख्य परीक्षा के अंकों का अनुपात अंतिम चयन में बढ़ाया जाना चाहिए। इससे पक्षपात व गड़बड़ी की आशंका नहीं रहेगी।। ओएमआर शीट के लिए अलग से फीस नहीं वसूली जाए क्योंकि उम्मीदवार पहले ही परीक्षा शुल्क जमा कर चुके हैं।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर