उज्जैन:कोरोना संक्रमण के बीच मौसम की मार

उज्जैन:कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिये एक ओर प्रशासन द्वारा एक ओर अनेक प्रयास किये जा रहे हैं तो अब प्रकृति ने अपना रूप बदल कर लोगों को संकट की कगार पर खड़ा कर दिया है। दो दिनों पहले तक तापमान में तेजी से वृद्धि हो रही थी और गर्मी के बीच लोग पंखे का सहारा ले रहे थे। गुरुवार को आसमान में बादल छाने के साथ हल्की बारिश ने मौसम में ठंडक घोल दी और सुबह तेज बारिश ने शहर को तरबतर कर दिया। तेजी से बदल रहे मौसम का असर लोगों के स्वास्थ्य पर पडऩे की संभावना है, जिसके चलते डॉक्टरों द्वारा कोरोना संक्रमण के साथ साथ अब बदलते मौसम में स्वयं को स्वस्थ रखने की अपील की जा रही है।

मौसम प्रेक्षक राजेन्द्र गुप्त ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में अचानक बदलाव आया है। अरब सागर से उठे बादल गुजरात और महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश की ओर बढ़ रहे हैं। दो दिनों से बदलते तापमान और वातावरण में आई नमी के कारण गुरूवार और शुक्रवार सुबह बारिश दर्ज हुई है। यह सिलसिला अगले दिन भी जारी रहने की संभावना है जिसके बाद सिस्टम आगे बढ़ जायेगा।

रात का न्यूनतम तापमान 18.2 डिग्री दर्ज हुआ है जबकि आद्रता 90 प्रतिशत रही। सुबह 8 बजे तक 6 मिमी बारिश दर्ज हुई है और हवा की गति 4 किलोमीटर प्रति घंटे रही। इधर जिला चिकित्सालय के डॉ. जितेन्द्र शर्मा ने तेजी से बदल रहे मौसम के बीच लोगों को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी है। डॉ. शर्मा के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिये शासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा पर्याप्त कदम उठाये जा रहे हैं, लेकिन दूसरी ओर मौसम में बदलाव के कारण लोगों में सर्दी, खांसी की संभावना बढ़ जाती है। इसलिये गर्म भोजन, गुनगुना पानी पीने के साथ किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन से स्वयं को बचाकर रखें। यदि वायरल फीवर अथवा अन्य लक्षण सामने आते हैं तो परिवारजनों से स्वयं को अलग करते हुए उपचार प्रारंभ करें।

चिकित्साकर्मियों को मिली कोरोना से बचाव की ड्रेस
शहर में कोरोना पाजिटिव के मामले सामने आने और उनके संपर्क में आये लोगों का परीक्षण व जांच करने के साथ अब जिला चिकित्सालय के चिकित्साकर्मियों को कोरोना से बचाव के लिये विशेष ड्रेस उपलब्ध कराई गई है। जिला चिकित्सालय की ओपीडी में प्रतिदिन सर्दी, खांसी, बुखार की शिकायत लेकर दर्जनों मरीज यहां आ रहे हैं इनमें कोई भी व्यक्ति कोरोना पाजिटिव हो सकता है, इसी आशंका के बीच चिकित्सा कार्य में लगे डॉक्टर व कर्मचारियों को विशेष ड्रेस उपलब्ध कराई गई है।

पूरे शहर में बेरिकेडिंग, मोहल्लों से ही करें खरीदी
पूरे शहर में पुलिस प्रशासन द्वारा बेरिकेडिंग कर मुख्य चौराहों पर लोगों के आवागमन को प्रतिबंधित किया गया है। वहीं अब चौराहों पर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों द्वारा लोगों को अपने मोहल्लों की दुकानों से आवश्यक सामग्री खरीदने की बात कही जा रही है। पिछले दिनों तक लोग आवश्यक सामान खरीदने के लिये मुख्य बाजारों तक पहुंच रहे थे, जिससे भीड़ बढ़ रही थी। इसी के मद्देनजर प्रशासन द्वारा अब नये कदम उठाये जा रहे हैं। लोगों को ज्यादा से ज्यादा घर में रहने की हिदायत दी जा रही हैं।