Sunday, May 22, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन:दुष्कर्म पीडि़ता बार-बार लगाती रही चक्कर, नीलगंगा थाने से कहा पुलिस जवान...

उज्जैन:दुष्कर्म पीडि़ता बार-बार लगाती रही चक्कर, नीलगंगा थाने से कहा पुलिस जवान अभी शादी में व्यस्त हैं…

एक सप्ताह पहले आरोपी की नामजद शिकायत करने वाली महिला पर सरेराह चाकू से हमला

दुष्कर्म पीडि़ता बार-बार लगाती रही चक्कर, नीलगंगा थाने से कहा पुलिस जवान अभी शादी में व्यस्त हैं…

अधिकारी जांच का हवाला देकर कहते रहे उठा लेेंगे आरोपी मोहन को

महिला पुलिसकर्मी चांदनी पाटीदार पर भी लगाया था मिलीभगत का आरोप

उज्जैन।दुष्कर्म पीडि़ता की रिपोर्ट पर नानाखेड़ा पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ धारा 376 में कायमी की। एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया लेकिन दूसरे आरोपी को पकडऩे में नाकामयाब रही जिसका नतीजा यह हुआ कि फरार आरोपी ने बीती रात महिला के गले पर चाकू से हमला कर दिया। जिसकी रिपोर्ट नीलगंगा थाने में दर्ज कराई गई वहीं महिला को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में परिजनों ने भर्ती कराया। परिजनों ने कहा कि यहां भी हमलावरों को भय बना हुआ है।

शिकायत की तो पुलिस ने कहा अभी टाईम नहीं है

घायल महिला का जिला अस्पताल में उपचार जारी है। उसने बताया कि फरार रमेश मालवीय द्वारा केस में समझौता करने नहीं तो जान से खत्म करने की धमकी रोज मिल रही थी। थाने में इसकी शिकायत करने गई तो पुलिस ने जवाब दिया कि अभी टाईम नहीं है पुलिस दूसरे काम में व्यस्त है जब समय मिलेगा तो आरोपी को पकड़ लेंगे। महिला ने कहा कि यदि पुलिस फरार आरोपी को समय पर पकड़ लेती तो वह हमला नहीं कर पाते।

यह था मामला

बसंत विहार कालोनी में रहने वाली 29 वर्षीय महिला नानाखेड़ा थाने में दुष्कर्म की शिकायत लेकर पहुंची थी। यहां पदस्थ एसआई चांदनी पाटीदार ने महिला की रिपोर्ट दर्ज न करते हुए समझौते का दबाव बनाया। महिला ने पुलिस द्वारा आरोपियों की दलाली करने पर मीडिया के समक्ष अपना पक्ष रखा। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने 30 नवंबर को रामू जाटवा और रमेश मालवीय के खिलाफ धारा 376 का केस दर्ज किया जिसके बाद रामू जाटवा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया लेकिन रमेश मालवीय अब तक फरार है।

यह हुआ बीती रात

दुष्कर्म पीडि़ता अपने घर बसंत विहार से न्यू इंदिरा नगर एकता नगर क्षेत्र स्थित ससुराल कपड़े सिलाने गई थी। उसी क्षेत्र में रात 9 बजे रमेश मालवीय और मोहन पटेल ने उसे रोका व पीछे से गर्दन पर चाकू मार दिये। बदमाशों ने कहा कि दुष्कर्म केस वापस नहीं लिया तो जान से खत्म कर देंगे।

ये कैसी पुलिसिंग… महिलाएं असुरक्षित

महिलाओं के साथ होने वाली छेड़छाड़, अश्लील हरकतें, दुष्कर्म, अत्याचार की शिकायत को गोपनीय रखने के साथ आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी का दावा प्रदेश शासन द्वारा किया जाता है, वहीं दूसरी ओर दुष्कर्म का नामजद केस दर्ज होने के बाद भी आरोपी को फरार बताया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर फरार आरोपी पीडि़ता को धमकी देकर हमला कर रहे हैं। महिलाओं को मीडिया का सहारा लेकर थाने में केस दर्ज कराना पड़ रहा है। पुलिस की यह कार्यप्रणाली पुलिसिंग पर सवाल उठा रही है वहीं महिलाएं भी असुरक्षित महसूस कर रही हैं।

नानाखेड़ा टीआई बोले…तीन दिन पहले नीलगंगा थाने को धमकी की एफआईआर भेज चुके

नानाखेड़ा थाना प्रभारी ओमप्रकाश अहिर ने बताया कि दुष्कर्म पीडि़ता को आरोपी द्वारा धमकी दिये जाने की शिकायत मिली थी। मामला नीलगंगा थाना क्षेत्र का था। तीन दिन पहले नीलगंगा थाने में शिकायत दर्ज हो चुकी है।

यह कहना है नीलगंगा टीआई का..नीलगंगा थाना प्रभारी तरूण कुरील ने बताया कि महिला शंका जता रही है। धमकी की शिकायत थाने में दर्ज हुई थी। पुलिस ने दबिश दी होगी। मैं कल ही छुट्टी से लौटा हूं। मुझे इसकी अधिक जानकारी नहीं है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर