Friday, May 27, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन:महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि व्यवस्थाओं को दिया अंतिम रूप...

उज्जैन:महाकालेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि व्यवस्थाओं को दिया अंतिम रूप…

42 घंटे दर्शन, डेढ़ लाख से अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना…

भक्त कैसे आएंगे और कहां से मंदिर में जाएंगे… इसके लिए रूट प्लान जारी

उज्जैन। महाशिवरात्रि पर महाकाल मंदिर में डेढ़ लाख से अधिक भक्तों के आने की संभावना हैं। भगवान के दर्शन का सिलसिला 42घंटे चलने वाला हैं। जिला प्रशासन और मंदिर प्रबंध समिति के प्रयास है कि श्रद्धालु को अधिकत्तम एक घंटे में भगवान के दर्शन कराए जाए।

बीत दो साल से कोरोना के कारण लगे प्रतिबंध के बाद इस साल ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। इसके लिए प्रशासन ने मास्टर प्लान बनाया है। तीन अलग-अलग लेयर में दर्शन कराए जाएंगे। पहली लेयर आम भक्तों की होगी। दूसरा प्रोटोकॉल मार्ग और तीसरा हरि फाटक से एंट्री दी जाएगी। महाशिवरात्रि पर डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है।

addd

इंदौर, देवास, नागदा और बडऩगर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कर्क राज मंदिर में पार्किंग रखी गई है। यहां से श्रद्धालु पैदल गंगा गार्डन तक पहुंचेंगे। यहां जूता स्टैंड और लॉकर फैसिलिटी मिलेगी। पास ही के रास्ते से चारधाम मंदिर तक श्रद्धालु पहुंच सकेंगे। दर्शन के बाद प्रवचन हॉल के पास बने निर्गम द्वार से बाहर जाएंगे।

root

तीन बैरिकेडिंग से श्रद्धालुओं को प्रवेश मिलेगा। दो बैरिकेडिंग आम श्रद्धालुओं के लिए और तीसरी बैरिकेडिंग 250 रुपए की रसीद लेने वालों के लिए होगा। श्रद्धालुओं को एक घंटे तक लाइन में रहना होगा। मंदिर समिति ने श्रद्धालुओं के लिए पानी की बोतल की व्यवस्था की है।

कर्कराज पर पार्किंग से गंगा गार्डन तक फ्री ई-रिक्शा…

श्रद्धालुओं को ज्यादा पैदल न चलना पड़े, इसके लिए पार्किंग से लेकर गंगा गार्डन तक निशुल्क ई-रिक्शा की सुविधा रहेगी। इसमें दिव्यांग और बुजुर्गों को प्राथमिकता दी जाएगी।

वाहनों की पार्किंग लालपुल क्षेत्र में कर्कराज मंदिर के पास की जा रहीं हैं। हालांकि पैदल नहीं चलने वालों के लिए कर्कराज से चारधाम मंदिर तक नि:शुल्क ई-रिक्शा,मैजिक के इंतजाम किए जाएंगे।

कर्कराज मंदिर के समीप करीब 400 चौपहिया वाहनों के एक साथ पार्क करने की व्यवस्था रहेगी। वाहनों को पार्क करने के बाद श्रद्धालु चारधाम मंदिर तक पहुंचेंगे।

त्रिवेणी संग्रहालय के पास की पार्किंग का भी उपयोग किया जाएगा। श्रद्धालु वेधशाला, चिंतामण रोड, नृसिंह घाट वाली रोड से पार्किंग तक पहुंच सकेंगे।

चारधाम मंदिर के सामने से दर्शनार्थी दर्शन की कतार में लगेंगे। श्रद्धालुओं की तीन कतार रहेगी। दो कतार सामान्य दर्शनार्थियों के लिए तथा एक कतार 250 रुपये के शीघ्र दर्शन टिकट वाले श्रद्धालुओं की रहेगी

गंगोत्री व गंगा गार्डन पर जूता स्टैंड एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध होगी। गंगा गार्डन से बेरिकेडिंग से होकर श्रद्धालु शंख द्वार होते हुए दर्शन करेंगे।

दर्शन के बाद निर्गम द्वार से निकलकर झालरिया मठ होकर गंगा गार्डन पहुंचेंगे एवं अपने चप्पल-जूते एकत्रित कर पुन: पार्किंग तक जा सकेंगे। आने और जाने के लिए अलग-अलग बेरिकेडिंग होगी।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर