Monday, May 16, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन : ...और हो गई दीपोत्सव की शुरुआत

उज्जैन : …और हो गई दीपोत्सव की शुरुआत

दो साल बाद दिखी दीपावली की रौनक….

उज्जैन।दीपावली का उल्लास शहर के तमाम बाजारों में नजर आने लगा है। शहर के प्रमुख बाजार फ्रीगंज से लेकर गोपाल मंदिर और मॉल में अलग ही कारोबारी रौनक हैं। शहर की सड़कों के किनारे लगने वाले पारंपरिक त्योहारी बाजार भी सज चुके हैं। बाजारों में त्योहार की जोरदार खरीदी भी चल रही है। खरीदारी की चहल- पहल के साथ दुकानदारों के खिले चेहरे बता रहे हैं कि दो साल बाद दीपावली की रौनक शहर में दिखाई दी है। कोरोना महामारी की वजह से दो साल से मंदी झेल रहे बाजारों में त्योहार ने सकारात्मकता का रंग भर दिया। शहर के अधिकांश क्षेत्र में खरीदारों की भीड़ बनी हुई है। वहीं सोना-चांदी और बर्तन कारोबारी धनतेरस की तैयारी में जुट गए है। रोशनी की सजावट होने लगी है। ज्वेलरी शोरूम पहले से सजकर तैयार है।

धन तेरस पर भी अच्छे कारोबार की उम्मीद

दीपावली को देखते हुए शहर के बाजार सुबह जल्दी खुलकर रात को देर से बंद हो रहे हैं। इसके लिए खासतौर पर बर्तन व सराफा बाजार सज गए हैं। व्यवसायियों ने विशेष छूट के साथ बर्तन व चांदी के बर्तन बेचने के लिए रखे हैं। गुरुवार को गुरु-पुष्य नक्षत्र पर बाजार में खासी रौनक देखने को मिली थी। धनतेरस पर भी व्यापारियों को अच्छे रिस्पांस और बिक्री की उम्मीद है।

कल सुबह तक रहेगी धनतेरस
ज्योतिषायार्च के अनुसार मंगलवार की सुबह ८:३५ से त्रयोदशी लग चुकी है यह बुधवार ३ नवंबर सुबह ७:१४ तक रहेगी। इसके बाद चतुर्दशी शुरू हो जाएगी। ऐसे में धनतेरस दो दिन रहेगी। शहर में त्योहारों की रंगत दिखने लगी है। सोमवार को दिनभर बाजारों में त्योहारी खरीदी बनी रही। मंगलवार से दीपोत्सव की शुरुआत हो गई है।

धन के देवता का पूजन: धनतेरस पर धन के देवता कुबेर और आयुर्वेद के जनक भगवान धन्वंतरी की पूजा की जाएगी। ३ नवंबर को रूप चौदस रहेगी। 4 नवंबर को दीपावली, 5 नवंबर को गोवर्धन पूजा और 6 नवंबर को यमद्वितीया भाईदूज का पर्व
मनाया जाएगा।

सिक्कों की खरीदी और आभूषणों की बुकिंग

धनतेरस पर आभूषण और बर्तन की खरीदी का महत्व माना जाता है। इसी के चलते धनतेरस के पहले ज्वेलर्स और बर्तनों के व्यापारियों ने अलग-अलग वेरायटी के आभूषण और सिक्कों की रेंज प्रस्तुत की है। वहीं बर्तनों की भी अलग-अलग कलात्मक शृंखला अपनी दुकानों पर रखी है। दीपावली के लगभग 10 दिन बाद विवाह मुहूर्त आ रहे हैं। ऐसे में धनतेरस पर लोगों ने चांदी-सोने के सिक्कों की खरीदी पर जोर दिया है। बड़े आभूषणों को विवाह समारोह के लिए बुक किया। खासबात यह है कि धनतेरस पर इस बार परंपरागत सिक्कों से अलग नए आकार और सुंदरता लिए चांदी-सोने के सिक्के सराफा बाजार में आए है। व्यापारियों ने बताया कि लक्ष्मी पूजन के लिए सोने के सिक्कों में 1 ग्राम से लेकर5 ग्राम तक के सिक्कों की डिमांड ज्यादा रहती है। जिसकी शुद्धता की गारंटी ऑल इंडिया में शत प्रतिशत है।

पर्व को लेकर बच्चें के पकड़ों की ज्यादा बिक्री कपड़ा बाजार

मॉल-शोरूम से लेकर छोटी-बड़ी सभी कपड़ा दुकानों पर भी दीपावली का रंग चढ़ा हुआ है। नए डिजाइन, फैंसी ड्रेसेस युवाओं के लिए पहली पसंद बने हुए है, वहीं बच्चों के कपड़े ज्यादा बिक रहे हैं। अच्छी ग्राहकी के चलते दुकानदारों के चहरों पर खुशी बनी हुई।

साज-सज्जा का सामान लोगों के लिए पसंद बना हुआ

दीपावली त्योहार के चलते घरों की साज-सज्जा का सामान लोगों के लिए पहली पसंद बना हुआ है। घरों की सजावट के लिए मार्केट में कई प्रोडक्ट बिकने के लिए आए है। इसमें क्रिस्टल, मल्टी कलर्ड स्टोन, पर्ल वर्क आदि विशेष है यह सभी चीजें घरों की सजावट में उपयोग की जाती है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर