Friday, May 27, 2022
Homeउज्जैन एक्टिविटीउज्जैन : जय परशुराम... ध्वज पूजन कर 1111 केसरिया ध्वज लेकर शहर...

उज्जैन : जय परशुराम… ध्वज पूजन कर 1111 केसरिया ध्वज लेकर शहर में निकले ब्रह्मजन

बाबा महाकाल के दरबार में की महाआरती, महिलाएं पीले एवं पुरुष श्वेत वस्त्र में हुए शामिल,

टॉवर चौक पर बनाई ब्रह्म श्रृंखला

उज्जैन। आज अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु के आठवें अवतार एवं ब्राह्मण समाज के अग्रज भगवान श्री परशुरामजी की जयंती मनाई जा रही है।

श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रांगण से सुबह श्री परशुराम दर्शन यात्रा विशाल वाहन रैली के साथ शुरू हुई। केसरिया ध्वज लहराते निकली इस यात्रा में हजारों समाजजन शामिल हुए।

भगवान महाकालेश्वर का पूजन अर्चन कर राष्ट्र की उन्नति सभी के विकास के लिए आशीर्वाद प्राप्त किया। इसके पश्चात भगवान श्री परशुरामजी का एवं ध्वज पूजन महाकालेश्वर मंदिर के शासकीय पुजारी पं. घनश्याम शर्मा एवं पं. शैलेंद्र शर्मा के आचार्यत्व में महामंडलेश्वर अतुलेशानंद महाराज, महामंडलेश्वर शैलेशानंद गिरि महाराज के सानिध्य में श्री परशुराम ब्राह्मण संगठन के संस्थापक अध्यक्ष पं. राजेश त्रिवेदी, परशुराम ब्राह्मण संगठन के अध्यक्ष पं. गिरीश पाठक, अभा ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष पं. सुरेंद्र चतुर्वेदी सहित ब्राह्मण समाज के समस्त वरिष्ठजन एवं उप शाखा के अध्यक्षगणों की उपस्थिति में किया और महाआरती की गई। कलेक्टर आशीषसिंह और एसपी सत्येंद्रकुमार शुक्ल भी वहां पहुंचे और शुभकामनाएं दी। इसके पश्चात महाकाल मंंदिर से श्री परशुराम दर्शन यात्रा वाहन के रूप में निकाली।

रैली गुदरी चौराहा, गोपाल मंदिर, सती गेट, दौलतगंज, मालीपुरा, देवास गेट, चामुंडा माता चौराहा, फ्रीगंज, शहीद पार्क, कंट्रोल रूम, देवास रोड से तीन बत्ती चौराहा होते हुए टॉवर चौक पर पहुंची। टावर चौक पर विश्व शांति, महामारी की पुनरावृत्ति न हो, सभी की समृद्धि और राष्ट्र की उन्नति के लिए ब्रह्म श्रंखला बनाई। इसके बाद सभी ब्रह्मजन चाणक्यपुरी स्थित श्री परशुराम मंदिर पहुंचे जहां पर महाआरती के साथ श्री परशुराम दर्शन यात्रा का समापन होगा। पुरुष श्वेत वस्त्र और महिलाएं पीले वस्त्र में श्री परशुराम दर्शन यात्रा में सम्मिलित हुए।

श्री परशुराम दर्शन यात्रा में ये हुए शामिल: पं. राजेंद्र शर्मा गुरु, पं. राम शर्मा गुरु, पं. प्रदीप गुरु, पं. आनंद गुरु लोटावाला, पंडा कुंडवाला पं. अजय जोशी गज्जु गुरु, पं. नीरज शर्मा, पुजारी गणेश गुरु, पं. अजय शर्मा, पुजारी शैलेंद्र शर्मा, पं. अमोध शर्मा सहित हजारों समाजजन शामिल हुए।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर