Monday, May 16, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन में फिर मिला कोरोना पॉजिटिव

उज्जैन में फिर मिला कोरोना पॉजिटिव

सावधानी रखें…नहीं तो फिर बढ़ सकता है खतरा

उज्जैन।कोरोना से राहत महसूस कर रहे शहरवासियों की चिंता शहर में मिले एक कोरोना पॉजिटिव ने बढ़ा दी है। चिंता की बात यह भी है कि कोरोना के आठ ऐसे मरीज सामने आए हैं,वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके थे। बहरहाल सभी को सावधानी रखने की आवश्यकता हैं। त्योहारों के चलते बाजारों में भीड़ उमड़ रही है। ऐसे में संक्रमण तेजी से फैलने की आशंका से इंकार भी नहीं किया जा सकता।

vinayaakk

जिन लोगों में संक्रमण मिला है उनमें से ज्यादातर को कोरोना का टीका लग चुका था। बड़ी संख्या में उज्जैन के अनेक के परिवारों के सदस्य अन्य प्रांतों,बड़े शहरों में रहते हैं। दीपावली के त्योहार के चलते इनमें से कई उज्जैन लौट चुके हैं, तो कुछ आने की योजना बना रहे हैं। ऐसी स्थिति में कोरोना को नियंत्रित करना शासन-प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती साबित होगा।

लापरवाही भारी पड़ सकती है
शहर में लोग मास्क लगाना भूल रहे हैं,यह लापरवाही भारी पड़ सकती है। जिले में डेंगू व वायरल फीवर का प्रकोप बढऩे के साथ में लोगों को सर्दी-खांसी व बुखार आ रहा है। इस बीच शहर और जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके उज्जैन कि कृष्णा पार्क कॉलोनी के निवासी युवक ने इंदौर में आयोजित परीक्षा में भाग लेने के लिए अपना कोविड टेस्ट कराया तो उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। वैक्सीन के दोनों डोज लेने के बावजूद उसमें संक्रमण पाया गया है। युवक घट्टिया स्वास्थ्य केंद्र में फार्मासिस्ट के पद पर पदस्थ है। मरीज को होम आइसोलेशन में रखा गया है।

5b0

दोनों डोज के बाद भी पॉजिटिव का आठवां केस

उज्जैन में यह आठवां मौका है जब मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है, जिसे वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके थे। इसके बाद यह स्पष्ट हैं कि वैक्सीन लगने के बाद भी लोगों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा वरना संक्रमित हो सकते हैं। चिकित्सकों कहना हैं जिन लोगों की प्रतिरोधक क्षमता कम है, वे लोग विशेष रूप से सतर्कता बरतें। चाहे उन्हें वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके,पर सावधानी रखें।

त्योहारी सीजन में लोग अवेयर नहीं हुए तो उज्जैन में भी संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। इसमें बच्चे और बुजुर्ग तथा डायबिटीज, हार्ट व लीवर की बीमारी के मरीजों पर संक्रमण का ज्यादा असर हो सकता है। उज्जैन में पहले ही सात मरीज ऐसे पाए जा चुके हैं, जिन्हें वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके थे, उसके बाद भी वे संक्रमित हो गए। ऐसे में लोगों को अवेयर रहना होगा। वैक्सीन लगने के बाद भी लोग कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते रहें। मास्क का उपयोग करें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहें। बदलते मौसम में लोग अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखें, इसके लिए मौसमी फल का सेवन करें और नियमित रूप से व्यायाम, योग व प्राणायाम करते रहें।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर