Sunday, May 22, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन : शहर होगा रोशन, वल्र्ड रिकॉर्ड शिप्रा किनारे के दीपों से

उज्जैन : शहर होगा रोशन, वल्र्ड रिकॉर्ड शिप्रा किनारे के दीपों से

उज्जैन। महाशिवरात्रि पर होने वाले शिव ज्योति अर्पणम् (दीपोत्सव) को लेकर व्यापक स्तर पर तैयारी चल रही है। प्रशासन ने भी जनसहयोग से अयोध्या का रिकॉर्ड तोडऩे के लिए कमर कस ली है। शहर में कुल 21 लाख दीप जलाने के लिए लक्ष्य निर्धारित किया गया है। शिप्रा किनारे रामघाट से भूखी माता घाट तक 12 लाख दीपक लगाए जाएंगे। गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड के लिए गणना शिप्रा किनारे प्रज्जवलित होने वाले दीपों से की जाएगी।

महाकाल की नगरी उज्जैन में महाशिवरात्रि के दिन 21 लाख दीपक जलाए जाएंगे। क्षिप्रा नदी के भूखी माता मंदिर घाट से लेकर रामघाट तक 12 लाख दीपक लगाए जाएंगे। दीपक को लगाने के लिए 12 हजार स्वयं सेवक लगेंगे। इसके लिए जिला पंचायत, शिक्षा विभाग, नगर निगम और स्मार्ट सिटी को जिम्मेदारी दी गई है। इसके साथ ही विभिन्न संगठन,समाज,संस्थाओं और संघ के माध्यम से शहर में अलग-अलग जगह, घरों और विभिन्न प्रतिष्ठानों में दीपक लगेंगे। दीपोत्सव में अयोध्या का रिकॉर्ड तोडऩे के लिए उज्जैन में तैयारी कर ली गई है। अयोध्या की तरह घाटों पर मार्किंग की है। एक ब्लॉक में 225 दीपक शिव ज्योति अर्पणम् को लेकर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड की टीम शहर पहुंच गई है। आयोजन से पूर्व टीम ने घाटों का निरीक्षण करने के साथ दीपोत्सव की रिहर्सल भी देखी। इधर दीपों की गणना सुलभ हो सके, इसके लिए घाटों पर एक बाय एक मीटर के ब्लॉक बनाए जा रहे हैं। इस आकार के प्रति ब्लॉक में 225 दीपक लग सकेंगे। नए ब्लॉक बनाने का कार्य 70 फीसदी तक पूरा हो गया।

टावर पर 84 महादेव की रंगोली

महाशिवरात्रि महामहोत्सव में टावर चौक की रंगत कुछ अलग होगी। गोपाल माहेश्वरी ने बताया अभियान में टावर पर चारों तरफ 3 फीट ऊंचे मंच पर 84 महादेव की रंगोली बनेगी, जिसकी लोग परिक्रमा कर सकेंगे। भगवान महाकाल की रंगोली बनेगी। 51 सदस्यों का बैंड भजनों की प्रस्तुति देगा। टावर भवन पर दीप जलाए जाएंगे। टावर से इंदिरा प्रतिमा तक मार्ग की छतरियों से सज्जा होगी। आकर्षक विद्युत रोशनी की जाएगी। महाकाल और 84 महादेव की महाआरती होगी।

दीप प्रज्जवलन की रिहर्सल

12 लाख दीपक क्षिप्रा नदी के दोनों ओर विभिन्न घाटों पर भी प्रज्वलित किए जा रहे हैं। साथ ही इन 12 लाख दीपों के माध्यम से विश्व कीर्तिमान स्थापित करने गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड की टीम को आमंत्रित किया गया है। गुरुवार 5-6 सदस्यों का दल शहर पहुंचा। शुक्रवार शाम दत्त अखाड़ा घाट पर शिव ज्योति अर्पणम् की रिहर्सल की गई। इस दौरान गिनीज बुक की टीम, निगम अपर आयुक्त मनोज पाठक व सामाजिक संगठन पदाधिारियों की मौजूदगी में कुछ स्थानों पर दीपक प्रज्वलित किए गए। रिहर्सल के दौरान ड्रोन से कवरेज किया। हर ब्लॉक में 225 दीपक रखे जाएंगे और इन्हें वालेंटियर द्वारा प्रज्जवलित किया जाएगा।

11 हजार लीटर तेल और

दीपक लगाने के लिए 14 हजार लीटर सोयाबीन तेल का एक टेंडर पूर्व में स्वीकृत होने के बाद अब जिला पुरातत्व एवं पर्यटन परिषद ने 11 हजार लीटर सोयाबीन तेल का एक और टेंडर जारी किया हैं। यह टेंडर कल खोले जाएंगे।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर