Sunday, September 24, 2023
Homeउज्जैन समाचारएक दिन छोड़कर नलों में पानी…

एक दिन छोड़कर नलों में पानी…

एक दिन छोड़कर नलों में पानी…

एक घंटे सप्लाई में 15 से 20 मिनट गंदा पानी, प्रेशर भी कम

अनेक क्षेत्रों एवं बस्तियों में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिला

अक्षरविश्व प्रतिनिधि .उज्जैन।नलों से एक दिन छोड़कर पानी देने के निर्णय के बाद दूसरे टर्म में बुधवार को जलप्रदाय हुआ, लेकिन समस्याएं और दिक्कते पहले दिन (सोमवार) की तरह ही बनी रही। एक घंटे सप्लाई के दौरान नलों में 15 से 20 मिनट गंदा पानी आया।

अनेक क्षेत्रों एवं बस्तियों में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिला। कई इलाकों में मात्र 30 से 35 मिनट जलप्रदाय हुआ,वह भी कम दबाव में, जिसके कारण नागरिकों को पानी के लिए काफी परेशान होना पड़ा।

पीएचई द्वारा शहर में एक दिन छोड़कर जलप्रदाय किया जा रहा है। नियम लागू होने के दूसरे टर्न में ही विभाग द्वारा की गई व्यवस्थाओं की पोल खुल गई। सुबह शहर के एक दर्जन से अधिक इलाकों में नलों से गंदा व कम दबाव से जलप्रदाय हुआ।

लाइन खाली थी, पानी भरने पर मिट्टी आई

पीएचई कार्यपालन यंत्री एन.के. भास्कर ने बताया कि एक दिन छोड़कर जलप्रदाय व्यवस्था के अंतर्गत एक दिन लाइन खाली रहती है दूसरे दिन टंकियां भरने के दौरान लाइन में जमा मिट्टी से पानी मटमैला हुआ। जलप्रदाय के दौरान 5 मिनिट गंदा पानी नलों से आया उसके बाद लोगों ने पानी स्टोर किया। कुछ क्षेत्रों से शिकायतें मिली हैं कम दबाव और गंदे पानी की समस्या का निराकरण करने के लिये दोपहर में बैठक रखी गई है।  अगली सप्लाय तक स्थिति में सुधार हो जायेगा।

एक साथ पूरे शहर में जलप्रदाय भी समस्या

पीएचई द्वारा पूरे शहर में एक दिन छोड़कर जलप्रदाय किया जा रहा है। टंकियां पूरी क्षमता से नहीं भरने और जलप्रदाय के दौरान विद्युत मोटरें चलने के कारण ऊंचाई वाले इलाकों में कम दबाव से जलप्रदाय होता है और लोग दो दिन का पानी स्टोर नहीं कर पाते। पूर्व के वर्षों में हुए जलसंकट के दौरान विभाग द्वारा नए व पुराने शहर में अलग-अलग दिनों में जलप्रदाय किया जाता था हालांकि वर्तमान में पीएचई द्वारा यह व्यवस्था लागू नहीं की गई है।

शहर के इन इलाकों में प्रभावित हुआ जलप्रदाय

पुराने शहर के जांसापुरा, वीर नगर, बेगमबाग, दुर्गा नगर, डाबरीपीठा, बजरंग कालोनी, वेद नगर, जवाहर नगर, महानंदा नगर सहित एक दर्जन से अधिक इलाकों में जलप्रदाय के समय पहले 10 मिनिट गंदा पानी नलों से आया और बाद में 15 मिनिट कम दबाव से जलप्रदाय हुआ। लोग दो दिनों के लिये नलों से आये पानी को स्टोर भी नहीं कर पाये।

उन्हें हैंडपंप व बोरिंग का सहारा लेना पड़ा। कई क्षेत्र के लोगों ने पीएचई कंट्रोल रूम पर इसकी शिकायत भी दर्ज कराई जिसके बाद टैंकर पहुंचाकर उक्त क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति की गई। अधिकारियों का कहना है कि जलप्रदाय सुचारू बना रहे इसके लिए निरंतर समीक्षा कर खामियों को दूर किया जाएगा।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर