कोरोना से घबराएं नहीं, फॉलो करें ये बचाव के तरीके

WHO से लेकर दुनिया से सभी डॉक्टर्स कोरोना वायरस से बचने की सलाह लोगों तक पहुंचा रहे हैं। ऐसे में जरुरत है तो बस उन बातों को सुनकर, अम्ल करने की। कई बार लोग अफवाहों से भरी बातों पर यकीन कर लेते हैं, और पैनिक होकर बेवजह बीमार पड़ जाते हैं।

इस बात में कोई शक नहीं कि कोरोना एक खतरनाक वायरस है, मगर यदि आप कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखें, तो आप बहुत आसानी से इस समस्या की चपेट में आने से बच सकते हैं। आइए जानते हैं कोरोना वायरस से बचने के कुछ आसान टिप्स…

3महंगा मास्क खरीदने की नहीं जरुरत- कोरोना वायरस में केवल 400-500 माइक्रो के कण पाए जाते हैं, जिसे एक नार्मल मास्क आसानी से रोक सकता है। जरुरत है तो समय-समय पर इस मास्क को बदलने की। हर 6 से 7 घंटे बाद मास्क जरुर बदलें।

हवा में नहीं, वस्तुओं पर होते हैं जर्म्स- कोरोना के जर्म्स हवा में नहीं, बल्कि वस्तुओं पर लगे होते हैं। किसी भी वस्तु पर पूरे 12 घंटे तक कोरोना के जर्म्स लगे रहते हैं। जिस वजह से आपको बहुत सावधान रहने की जरुरत है।

कपड़ों पर 9 घंटे तक रहते हैं जर्म्स- अगर कोरोना से पीड़ित कोई व्यक्ति आपके कपड़े पहन लें, तो उन कपड़ों को अच्छी तरह dettol के साथ साफ करें। कपड़ों पर कोरोना के जर्म्स पूरे 9 घंटे तक लगे रहते हैं।

हाथों पर 10 मिनट तक रहता है असर- कोरोना जर्म्स का असर आपके हाथों पर पूरे 10 मिनट तक रहता है। ऐसे में हर 1 घंटे बाद हाथ धोएं और हर 15 मिनट बाद हाथों को सैनिटाइज जरुर करें।

धूप में बैठें- कोरोना वायरस का असर 26-27 डि.ग्री. में जाकर खत्म हो जाता है। ऐसे में जितनी देर तक हो सके धूप सेकें। जिस कमरे में आप रहते हैं, उसे भी गर्म रखें। आइसक्रीम, ठंडे पानी और ठंडी तासीर वाली सभी चीजों से दूर रहें।

गर्म पानी से गार्गल- दांतो पर कोरोना के जर्म्स 10 घंटे तक छिपके रहते हैं। जब तक कोरोना के जर्म्स आपके ग्ले तक हैं, तब तक आपके फेफड़े सेफ हैं। ऐसे में दिन में 2 से 3 बार नमक वाले पानी से गरारे करें, ताकि जर्मस ग्ले से नीचे न जा पाएं।

भीड़-भाड़ से रहें दूर- जितना हो सके गर्मियां शुरु होने तक ज्यादा भीड़-भाड़ में न जाएं। वैसे तो नॉनवेज में कोरोना के जर्मस नहीं होते, मगर फिर भी बचाव जितना हो उतना कम। कुछ समय के लिए किसी भी प्रकार के नॉनवेज का सेवन न करें।